Amul Milk Price : देशभर में 2 रुपए प्रति लीटर महंगा हुआ अमूल दूध, उपभोक्ताओं की जेब पर पड़ेगा असर!

Amul Milk Price : अमूल दूध की कीमत में बढ़ोतरी हो गई है। जानकारी के अनुसार अब अमूल गोल्ड से लेकर अमूल टी स्पेशल के दाम 2 रुपये प्रति लीटर बढ़ गए है, जिससे उपभोक्ताओं को अब ज्यादा कीमत चुकानी पड़ेगी।

Amul Milk Price : गुजरात को-ऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन (GCMMF) ने घोषणा की है कि अमूल गोल्ड, अमूल शक्ति और अमूल फ्रेश की कीमतों में बढ़ोतरी की जा रही है। दरअसल नई कीमतें 2 जून से लागू हो गई है। जानकारी के मुताबिक अब अमूल गोल्ड का दाम 64 रुपये प्रति लीटर से बढ़ाकर 66 रुपये प्रति लीटर कर दिया गया है, वहीं अमूल टी स्पेशल के दाम में भी बढ़ोतरी की गई है अब अमूल टी स्पेशल 62 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 64 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

बढ़ी हुई कीमतों का कारण:

दरअसल फेडरेशन ने एक आधिकारिक पत्र जारी कर बताया कि ऑपरेशन और प्रोडक्शन की कुल लागत में बढ़ोतरी होने के कारण दूध के दामों को भी बढ़ाया जा रहा हैं। MRP में 3-4% की वृद्धि की जा रही है यानी 2 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी लीटर पर की जाएगी। जबकि अमूल के अधिकारियों के अनुसार, मेंबर यूनियनों ने किसानों से खरीदे जाने वाले दूध की कीमतों में इनपुट लागत में बढ़त के चलते बीते साल की तुलना में 6-8% की बढ़ोतरी कर दी गई है।

किसानों को मिलेगा लाभ:

जानकारी के मुताबिक उपभोक्ताओं द्वारा किए गए भुगतान के प्रत्येक रुपये में से लगभग 80 पैसा अमूल दूध उत्पादकों को देता है। अधिकारियों ने बताया कि दूध की बढ़ी कीमतों का सीधा फायदा किसानों को होगा। इससे उन्हें अधिक आय प्राप्त होगी और वे अपने उत्पादन में सुधार कर सकेंगे।

एक बार फिर बड़े अमूल दूध के दाम:

दरअसल अमूल ने दूध की कीमतों में 15 महीने बाद बढ़ोतरी की गई है। हालांकि इससे पहले की बात की जाए तो फरवरी 2023 में 3 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी अमूल दूध में की गई थी। दूध की कीमतें बढ़ाने को लेकर अमूल का कहना था कि, ‘पिछले साल की तुलना में पशु चारे की कीमत ही करीब 20% बढ़ चुकी है।’ इस बढ़ोतरी के पीछे कारण यह है कि उत्पादन लागत में बढ़ोतरी के बावजूद, अमूल ने लंबे समय तक कीमतों को स्थिर रखने की कोशिश की, लेकिन अब यह आवश्यक हो गया था।

उपभोक्ताओं पर प्रभाव:

दूध की कीमतों में यह बढ़ोतरी उपभोक्ताओं के बजट पर थोड़ा दबाव डाल सकती है, लेकिन यह निर्णय ऑपरेशन और प्रोडक्शन की लागत में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। आम जनता में इस बढ़ोतरी का मिश्रित प्रतिक्रिया देखी जा सकती है। कुछ उपभोक्ता इसे आवश्यक मान सकते हैं जबकि अन्य इस वृद्धि से असंतुष्ट भी दिखाई दे सकते हैं।


About Author
Rishabh Namdev

Rishabh Namdev

मैंने श्री वैष्णव विद्यापीठ विश्वविद्यालय इंदौर से जनसंचार एवं पत्रकारिता में स्नातक की पढ़ाई पूरी की है। मैं पत्रकारिता में आने वाले समय में अच्छे प्रदर्शन और कार्य अनुभव की आशा कर रहा हूं। मैंने अपने जीवन में काम करते हुए देश के निचले स्तर को गहराई से जाना है। जिसके चलते मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार बनने की इच्छा रखता हूं।