बाघ जैसा दिखता है एक कुत्ता, जानिये क्या है पीछे का सच

शिवमोगा।

कर्नाटक के एक किसान ने बंदरों से फसल बचाने के लिए एक ऐसा अनूठा तरीका खोज निकाला है, जो देशभर मे चर्चा का विषय बन गया है।किसान का नाम श्रीकांत गोवड़ा है जो शिवमोगा के नलुरू गांव के रहने वाले है।गौड़ा ने अपने इलाके के लिए भी इसी रणनीति का इस्तेमाल किया और उन्हें यह महसूस हुआ कि इससे लाभ हुआ।

दरअसल, इन दिनों कर्नाटक के किसान बंदरों के आतंक से परेशान हैं जिसके चलते कई किसानों ने तो कृषि करना भी छोड़ दी है, वहीं प्रदेश सरकार भी किसानों को बंदरों से निजात दिलाने में पूरी तरह विफल साबित हुई है। जिसके बाद श्रीकांत गोवड़ा नाम के किसान ने बंदरों से फसल को बचाने के लिए एक कमाल का तरीका निकाला है।इसके तहत  किसानों ने सड़क के कुत्तों को बाघ की तरह रंग दिया है, उनके शरीर पर पीले और काले रंग की पेंट से ऐसी धारियां बना दी हैं जो उन्हें बाघ सरीखा लुक देते हैं।

किसान श्रीकांत गौड़ा ने कहा कि उन्हें यह आईडिया उन्हें उत्तर कर्नाटक जाने के बाद आया। वह चार साल पहले भटकल गए थे जहां बंदरों को खेत से दूर रखने के लिए लोग नकली बाघ का इस्तेमाल कर रहे थे। गौड़ा ने अपने इलाके के लिए भी इसी रणनीति का इस्तेमाल किया और उन्हें यह महसूस हुआ कि इससे लाभ हुआ।हालांकि गौड़ा का कहना है कि इससे बहुत ज्यादा लाभ नहीं होता। हेयर डाय की मदद से वह कुत्तों को पेंट करते हैं और वह एक महीने के भीतर ही गिरने लगता है।उनके अलावा एक अन्य किसान चिदानंद गौड़ा भी बंदरों को भगाने के लिए लाउड स्पीकर में कुत्ते की आवाज चलाते हैं। 

बाघ जैसा दिखता है एक कुत्ता, जानिये क्या है पीछे का सच

बाघ जैसा दिखता है एक कुत्ता, जानिये क्या है पीछे का सच