Ayodhya Verdict: सुन्नी वक्फ बोर्ड ने किया फैसले का स्वागत, दायर नहीं करेंगे रीव्‍यू पिटीशन

नई दिल्ली| अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का बहुप्रतीक्षित फैसला आने के बाद रामजन्म भूमि-बाबरी मस्जिद विवाद के पक्षकार रहे यूपी सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बोर्ड के अध्यक्ष ज़फर फारुकी ने साफ कर दिया कि सुन्नी वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष के तौर पर मैं ये कहना चाहता हूं कि कोई भी रिव्यू फाइल नहीं करेंगे| 

एएनआई के मुताबिक बोर्ड के अध्यक्ष ज़फर फारुकी ने कहा मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि यूपी सुन्नी वक्फ बोर्ड कोर्ट के आदेश के खिलाफ रीव्‍यू के लिए नहीं जाएगा। हम इस फैसले का स्वागत करते हैं|  अगर कोई भी रिव्यू पीटिशन की बात करता है तो ये वक्फ से संबंधित नहीं है| अभी 5 एकड़ जमीन के मामले हमने कोई निर्णय नहीं लिया है| वहीं उन्होंने ओवैसी के विरोध पर कहा ओवैसी बोर्ड के मेंबर भी नहीं है, उनके बयान का कोई मतलब नहीं है|  

फ़ारूक़ी ने कहा कि 5 एकड़ जमीन लेने को लेकर बोर्ड के मेंबर के साथ बातचीत के बाद फैसला लिया जाएगा। उन्होंने साफ कहा, ‘हमें सुप्रीम कोर्ट का फैसला मान्य है। फैसले से पहले सभी का कहना था कि कोर्ट का फैसला मान्य होगा। इसलिए अब अगर कोई रिव्यु पेटिशन की बात करता है तो यह गलत होगा।’