Raipur: कांग्रेस विधायक का बड़ा आरोप- मंत्री कराना चाहते हैं मेरी हत्या

विधायक ने यह भी कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में इस तरह की राजाशाही उचित नहीं है और सिंह देव कातिलाना हमले करा कर लोगों को मरवाना चाहते हैं।

कांग्रेस

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह (Congress MLA Brihaspati Singh)  ने प्रदेश के मंत्री टी एस सिंह देव पर बड़ा आरोप लगाया है। उनका कहना है कि मंत्री सिंहदेव मेरी हत्या कराना चाहते हैं। उन्हें मंत्री पद से हटाने की मांग भी बृहस्पत सिंह ने की है। रामानुजगंज से कांग्रेस के विधायक बृहस्पति सिंह ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव (Health Minister TS Singh Deo) पर बड़ा आरोप लगाया है।

यह भी पढ़े.. ज्योतिरादित्य सिंधिया के MP दौरे से पहले सियासी हलचल तेज, क्या है सियासी मायने?

उन्होंने कहा है कि मंत्री सिंह दे मेरी हत्या कराना चाहते हैं और कांग्रेस आलाकमान उन्हें तत्काल मंत्री पद से हटाना चाहिए। मैं केवल कांग्रेस पार्टी का समर्थक हूं मैं मंत्री सिंह देव या मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का समर्थक नहीं हूं। विधायक सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके यह बात कही। उनके निवास पर 20 के करीब कांग्रेस विधायक भी पहुंचे। बृहस्पत सिंह ने यह भी कहा कि सिहदेव ने सरगुजा में आतंक का राज बना रखा है। राजा होकर वह चाहते हैं कि 4 5 विधायकों की हत्या करा दें और मुख्यमंत्री बन जाए।

विधायक ने यह भी कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में इस तरह की राजाशाही उचित नहीं है और सिंह देव कातिलाना हमले करा कर लोगों को मरवाना चाहते हैं। उन्हें तत्काल मंत्री पद से हटाया जाना चाहिए। शनिवार को बृहस्पत सिंह की गाड़ी रोककर उनके ऊपर हमला किया गया था और इसका ठीकरा उन्होंने मंत्री सिंह देव के ऊपर फोड़ा है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: मप्र के 3 दर्जन से ज्यादा जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, बिजली गिरने के भी आसार

वहीं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि मेरी पुलिस अधीक्षक (SP) से बात हुई है, उनसे मैने कहा कि मामले में शामिल आरोपियों के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की जाए. इस तरह की वारदात बर्दाश्त के लायक नहीं है. मैने विधायक बृहस्पति सिंह से भी बात करने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया।इधर मामले पर सरगुजा एसपी अमित कुमार का कहना है कि विधायक के काफिले के पीछे चल रहे वाहन में जिसमें विधायक के PSO उनसे कल झगड़ा हुआ था।  पुलिस ने धारा 294, 506, 341 और 427 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निवास पर हुई विधायक दल की बैठक के बाद बाहर निकले स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने कहा कि यह सब पार्टी के अंदर की बात है। अंदर सब बातें सोहार्दपूर्ण हुई है। कभी कभी लोग ऐसे बयान भावावेश में दे जाते है बाकी सब ठीक है।