हजारों कर्मचारियों को दिवाली से पहले बड़ा तोहफा, इस भत्ते में हुई वृद्धि, पुरानी पेंशन योजना का भी लाभ. कैबिनेट ने दी मंजूरी

employees news

Uttarakhand Employees Diwali Bonus 2023 : उत्तराखंड के सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है। दिवाली से पहले राज्य की पुष्कर धामी सरकार ने कर्मचारियों को भत्ते और पुरानी पेंशन का बड़ा तोहफा दिया है। सोमवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में हुए कैबिनेट बैठक में 2 दर्जन से ज्यादा प्रस्तावों को मंजूरी दी गई । कैबिनेट ने एक अक्टूबर 2005 तक भर्ती परीक्षा में सम्मिलित हुए कार्मिकों को भी पुरानी पेंशन का विकल्प देने का निर्णय लिया है।वही उत्तराखण्ड सचिवालय से इतर अधीनस्थ कार्यालयों के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को वर्दी भत्ता दिए जाने का भी निर्णय लिया गया है।

कर्मचारियों को OPS का लाभ, चतुर्थ श्रेणी का वर्दी भत्ता बढ़ा

सोमवार को हुई कैबिनेट बैठक में नई पेंशन योजना में सेवारत उन करीब 6000 कर्मचारियों को पुरानी पेंशन योजना में शामिल होने का मौका मिलेगा जिनकी भर्ती की विज्ञप्ति व अधिसूचना एक अक्तूबर 2005 से पहले जारी हो गई थी। प्रदेश कैबिनेट ने केंद्र सरकार के मार्च 2023 को दिए गए विकल्प को अपनाया है।

इसके अलावा सचिवालय को छोड़कर प्रदेश के विभागों में तैनात करीब 35 हजार चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को हर वर्ष 2400 रुपये वर्दी भत्ता मिलेगा। अभी तक दो साल में पैंट, कमीज व अन्य अलग-अलग मदों में 4000 रुपये वर्दी भत्ता मिल रहा था। वही चालक से लिपिक बनने के लिए होने वाली टाइपिंग परीक्षा में 4000 शब्दों के स्थान 2400 शब्द का मानक बनाया गया है।

जल्द मिलेगा दिवाली बोनस और महंगाई भत्ते का लाभ

खबर है कि राज्य के 1.40 लाख कर्मचारियों को दिवाली से पहले 7000 तक का बोनस दिया जाएगा, इसको लेकर वित्त विभाग ने प्रस्ताव तैयार किया है,जिस पर जल्द मुहर लग सकती है। 4800 ग्रेड पे तक के कर्मचारियों को भी इसका लाभ मिलेगा। बोनस के रूप में लगभग 100 करोड़ का वित्तीय बोझ पड़ेगा।वही केन्द्र सरकार द्वारा 4 फीसदी महंगाई भत्ता बढ़ाए जाने के बाद अब राज्य सरकार भी 3 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को डीए का तोहफा देने की तैयारी में है। इसके लिए वित्त ने पत्रावलियों को उच्चानुमोदन के लिए भेजा है।वर्तमान में कर्मचारियों को 42% डीए का लाभ मिल रहा है, अगर 4% और वृद्धि होती है तो डीए 42% से बढकर 46% हो जाएगा, इसे जुलाई 2023 से लागू किया जाएगा, ऐसे में 3 महीने का एरियर भी मिलेगा।हालांकि अभी अधिकारिक पुष्टि और मुहर लगना बाकी है।

 


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News