खुशखबरी : कर्मचारियों-पेंशनरों को मिलेगा होली का तोहफा! 4% DA वृद्धि का ऐलान जल्द, सैलरी में आएगा बंपर उछाल, एरियर पर अपडेट

minimum wage

Central Employee DA Hike 2023 : केंद्रीय कर्मचारियों-पेंशनरों के लिए खुशखबरी है, जल्द ही सैलरी में बंपर उछाल आने वाला है। ताजा मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बुधवार को हुई मोदी कैबिनेट बैठक में 4 फीसदी महंगाई भत्ता वृद्धि के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है, लेकिन अबतक औपचारिक ऐलान नहीं किया गया है, संभावना जताई जा रही है कि होली के बाद 4 फीसदी महंगाई भत्ता वृद्धि का ऐलान हो सकता है और वित्त विभाग इसका आदेश जारी कर सकता है। इसका लाभ 1 करोड़ से ज्यादा कर्मचारियों पेंशनरों को मिलेगा।

दरअसल, वर्तमान में केन्द्रीय कर्मचारियों को 38 फीसदी डीए दिया जा रहा है, जो 4 फीसदी वृद्धि के बाद 42 फीसदी हो जाएगी। इसे 1 जनवरी 2023 से लागू किया गया, ऐसे में 2 महीने का एरियर भी मिलेगा। जनवरी 2023 से केंद्रीय कर्मचारी और पेंशनर्स को 42% की दर से महंगाई भत्ता और महंगाई राहत मिलेगा। माना जा रहा है कि मार्च की सैलरी में कर्मचारियों को बढ़े हुए डीए का लाभ दिया जा सकता है। इसका फायदा 50 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों को होगा। फाइनेंशियल एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक,  8 मार्च को  पीएम मोदी डीए का ऐलान कर सकते है, लेकिन केंद्र द्वारा DA बढ़ोतरी की घोषणा की सही तारीख की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

साल में 2 बार बढ़ता है महंगाई भत्ता

दरअसल, साल में 2 बार जनवरी और जुलाई में केन्द्रीय कर्मचारियों का DA बढ़ता है, इसकी गणना हर महीने श्रम ब्यूरो द्वारा जारी औद्योगिकी श्रमिकों के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI-IW) के आधार पर की जाती है। लेबर मिनिस्ट्री द्वारा जारी दिसंबर AICPI इंडेक्स के आंकड़ों में जहां अंक 0.2 अंक की गिरावट के साथ 132.3 पर पहुंच गया था, वही जनवरी में 0.5 प्वाइंट की वृद्धि के साथ इंडेक्स का नंबर 132.8 पर पहुंच गया है, ऐसे में जुलाई में 3 फीसदी फिर महंगाई भत्ते के बढ़ने के संकेत है। यह साल की दूसरी बढ़ोतरी होगी। हालांकि फरवरी से लेकर जून के तक के आंकड़े आना बाकी है, इसके बाद तय होगा कि जुलाई 2023 में कर्मचारियों-पेंशनरों के महंगाई भत्ते और महंगाई राहत में कितने प्रतिशत वृद्धि होगी।

42% सैलरी कैलकुलेशन

अभी अगर किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 1,8000 रुपये है तो 38 फीसदी के हिसाब से उसे 6,840 रुपये डीए मिलता है। अगर डीए 42 फीसदी हो जाता है तो कर्मचारी को महंगाई भत्ते के तौर पर 7,560 रुपये मिलेंगे। यानी उसे 720 रुपये अधिक मिलेंगे। यानी साल के हिसाब से 8,640 रुपये का फायदा होगा। इसी तरह अगर किसी सरकारी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 56,000 रुपये है तो 38 फीसदी के दर से महंगाई भत्ता 21,280 रुपये मिलता है। चार फीसदी बढ़ोतरी के बाद यह यह 23,520 रुपये हो जाएगा। सालाना 26,880 रुपये का फायदा होगा।

  1. कर्मचारी की बेसिक सैलरी 18,000 रुपए
  2. नया महंगाई भत्ता (42%) 7560 रुपए/माह
  3. नया महंगाई भत्ता (42%) 90,720 रुपए/सालाना
  4. अब तक महंगाई भत्ता (38%) 6840 रुपए/माह
  5. कितना महंगाई भत्ता बढ़ा 7560- 6840 = 720 रुपए/माह
  6. सालाना सैलरी में इजाफा 720X12= 8,640 रुपए
  7. कर्मचारी की बेसिक सैलरी 56,900 रुपए
  8. नया महंगाई भत्ता (42%) 23,898 रुपए/माह
  9. नया महंगाई भत्ता (42%) 286,776 रुपए/सालाना
  10. अबतक महंगाई भत्ता (38%) 21622 रुपए/माह
  11. कितना महंगाई भत्ता बढ़ा 23898-21622= 2276 रुपए/माह
  12. सालाना सैलरी में इजाफा 2276 X12= 27,312 रुपए

18 महीने के डीए एरियर पर भी फैसला संभव

त्यौहारों के सीजन में कर्मचारियों-पेंशनरों के लंबे समय से अटके 18 महीने के डीए एरियर पर भी फैसला आ सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आगामी चुनावों को देखते हुए होली के बाद मोदी सरकार जुलाई 2020 से जनवरी 2021 तक बकाया डीए एरियर पर भी विचार कर सकती है। अगर सहमति बनती है तो 50 हजार से 2 लाख तक का एरियर मिल सकता है।इसमें लेवल-1 के कर्मचारियों का DA एरियर 11,880 रुपए से लेकर 37,554 रुपए, लेवल-13 (7TH CPC बेसिक पे-स्केल 1,23,100 रुपए से 2,15,900 रुपए) और लेवल-14 (पे-स्केल) के हिसाब से 1,44,200 रुपए से 2,18,200 रुपए का भुगतान किया जाएगा।,हालांकि कि अभी तक सरकार की तरफ से पुष्टि या औपचारिक ऐलान नहीं किया गया है, ये आंकड़े उदाहरण के तौर पर दिए गए है इन आंकड़ों में बदलाव भी हो सकता है।


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News