खुशखबरी : लाखों कर्मचारियों-पेंशनरों को दशहरे से पहले तोहफा, डीए में 4% की वृद्धि, मिलेगा 3 महीने का एरियर, नवंबर से बढ़कर आएगी सैलरी

Pooja Khodani
Published on -
Dearness allowance

Odisha Employees DA Hike : केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा केन्द्रीय कर्मचारियों और पेंशनरों का महंगाई भत्ता बढ़ाए जाने के बाद अब राज्यों ने भी डीए में वृद्धि का ऐलान करना शुरू कर दिया है। अब ओडिशा की नवीन पटनायक सरकार ने राज्य के लाखों कर्मचारियों पेंशनरों को दिवाली से पहले बड़ा तोहफा दिया है। ओडिशा सरकार ने भी कर्मचारियों पेंशनरों के महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की वृद्धि की है। बढ़े हुए डीए का लाभ कर्मचारियों पेंशनरों को नवंबर में अक्टूबर की सैलरी के साथ मिलेगा।

डीए में 4 फीसदी वृद्धि

केन्द्र के बाद अब ओडिशा की नवीन पटनायक सरकार ने राज्य के कर्मचारियों पेंशनरों के डीए में 4 फीसदी वृद्धि की है, जिसके बाद कर्मचारियों पेंशनरों का डीए 42% से बढ़ाकर 46% हो गया है। चुंकी नई दरें जुलाई 2023 से लागू होंगी, ऐसे में 3 महीने जुलाई अगस्त और सितंबर का एरियर भी मिलेगा। राज्य सरकार का वर्तमान वेतन बिल 32,449 करोड़ रुपये और पेंशन 19,967 करोड़ रुपये है, 4% डीए बढ़ोतरी के साथ, राज्य को 2100 करोड़ रुपये अधिक का भुगतान करना होगा यानि राज्य सरकार के कर्मचारियों के वेतन और पेंशन पर लगभग 2100 करोड़ रुपये अधिक खर्च किये जायेंगे।

8 लाख कर्मचारियों-पेंशनरों को होगा लाभ

ओडिशा पीआर विभाग द्वारा एक्स पर की गई पोस्ट के मुताबिक, सीएम नवीन पटनायक ने आज शुक्रवार 20 अक्टूबर को सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ते (डीए) और महंगाई राहत (टीआई) में 4% वृद्धि की घोषणा की। राज्य सरकार ने राज्य कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के पक्ष में क्रमशः महंगाई भत्ते (डीए) और महंगाई राहत (टीआई) की 4 प्रतिशत अतिरिक्त खुराक जारी करने की घोषणा की ताकि दर को 42% से बढ़ाकर 46% किया जा सके।बढ़े हुए डीए और टीआई का भुगतान 1 जुलाई, 2023 से पूर्वव्यापी रूप से किया जाएगा। इससे राज्य सरकार के 4.5 लाख कर्मचारियों और 3.5 लाख पेंशनभोगियों को फायदा होगा।

 


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News