कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, 1 अप्रैल से लागू होगा ये नियम, रिटायरमेंट एज-सैलरी बढ़ेगी

कर्मचारियों को 1 अप्रैल से केंद्रीय सेवा नियम के दायरे में लाया जाएगा।इससे सेवानिवृत्ति की उम्र 58 साल से बढ़कर 60 साल हो जाएगी।

employees promotion
demo pic

चंडीगढ़, डेस्क रिपोर्ट। केन्द्र की मोदी सरकार ने कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है।पंजाब एवं हरियाणा की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में 1 अप्रैल से केंद्रीय सेवा नियम लागू होगा। इसका नोटिफिकेशन जल्द जारी किया जाएगा, इसकी घोषणा रविवार को केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में पहुंचे केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने की है। वही चंडीगढ़ को 480 करोड़ रुपये की विकास योजनाओं की सौगात दी। इसके बाद चंडीगढ़ केंद्र शासित प्रदेश के कर्मचारियों को भी वे सभी सेवा लाभ मिलेंगे जो केंद्रीय कर्मचारियों को मिलते हैं।

यह भी पढ़े…Weather Update: उत्तर भारत में हीट वेव की चेतावनी, 10 राज्यों में 29-30 मार्च तक बारिश का अलर्ट, जानें अपडेट

अमित शाह ने ऐलान किया कि चंडीगढ़ के कर्मचारी पिछले काफी समय से केंद्रीय सिविल सेवा नियम लागू करने की मांग कर रहे थे। इस मांग को पूरा करते हुए चंडीगढ़ प्रशासन के कर्मचारियों को 1 अप्रैल से केंद्रीय सेवा नियम के दायरे में लाया जाएगा।इससे सेवानिवृत्ति की उम्र 58 साल से बढ़कर 60 साल हो जाएगी। शिक्षा विभाग के कर्मचारियों के लिए सेवानिवृत्ति की उम्र भी 65 साल हो जाएगी। कर्मचारी बाल शिक्षा भत्ते के भी हकदार हो जाएंगे।इतना ही नहीं महिला कर्मचारियों को चाइल्ड केयर के लिए दो साल की छुट्टी मिलेगी, इसे लेकर जल्द ही अधिसूचना जारी कर दी जाएगी।इससे कर्मचारियों को बड़ा फायदा मिलेगा।

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने चंडीगढ़ प्रशासन के सभी कर्मचारियों की सेवा की शर्तों को केंद्रीय सिविल सेवाओं के साथ जोड़ने का महत्वपूर्ण निर्णय लेकर चंडीगढ़ प्रशासन की बहुत लंबे समय से चली आ रही मांग को पूरा किया है और जल्द ही इसका नोटिफिकेशन भी निकल जायेगा।

यह भी पढ़े.. MP: शिवराज सरकार का बड़ा फैसला, ये 5 योजनाएं फिर शुरू होंगी, अप्रैल-मई से लाखों को मिलेगा लाभ

केंद्रीय सेवा नियम लागू होने पर कर्मचारियों को कई बड़े लाभ मिलेंगे। इसमें रिटायरमेंट की उम्र 60 वर्ष होगी, प्रोफेसर आदि की 65 साल हो जाएगी, शिक्षकों को सफर करने के लिए लगभग 4000 रुपये प्रतिमाह तक भत्ता मिलेगा। इसके अलावा पे-स्केल और डीए केंद्र के कर्मचारियों के साथ मिलेगा। वहीं स्कूलों में उप प्राचार्य का पद होगा, इसमें वरिष्ठता के आधार पर नियुक्ति की जाएगी।महिला कर्मचारियों को चाइल्ड केयर के लिए 2 साल की छुट्टी मिलेगीऔर कक्षा-12 तक 2 बच्चों के अभिभावकों को शिक्षा भत्ता भी मिलेगा।