कर्मचारियों को नए साल का बड़ा तोहफा, आठवां वेतनमान लागू, 5 किस्तों में होगा एरियर का भुगतान, खाते में फरवरी से बढ़ेगी राशि, मिलेगी कई अन्य सुविधाएं

कर्मचारियों के लिए आठवें वेतनमान को मंजूरी दे दी गई है। 1 नवंबर 2017 से इसे लागू किया गया। इसके साथ ही उन्हें 62 महीने के बकाया एरियर का भी भुगतान किया जाएगा। सेवानिवृत्त कर्मचारियों को भी एरियर का भुगतान किया जाना है। भुगतान 5 किस्तों में होना है।

Employees New Pay Scale : कर्मचारियों के लिए नए साल में बड़ी खुशखबरी सामने आई है। दरअसल कर्मचारियों के लंबित नए वेज रिवीजन पर अंतिम मुहर लग गई है। अब उन्हें आठवें वेतनमान का लाभ दिया जाएगा। वहीं उन्हें यह लाभ जनवरी के महीने से दिया जाना है। मंगलवार को इस समझौते पर मुहर लगी है। यह समझौता एक नवंबर 2017 से लागू होकर 31 अक्टूबर 2027 तक के लिए मान्य किया गया है। साथ ही कर्मचारियों को 62 महीने के बकाया एरियर का भी भुगतान किया जाएगा। कर्मचारियों को यह एरियर 5 किस्तों में भुगतान होगा।

लंबित नए वेज रिवीजन पर मंगलवार को मुहर

दरअसल एचसीएल में लंबे समय से लंबित नए वेज रिवीजन पर मंगलवार को मुहर लगी है। डिप्टी चीफ लेबर कमिश्नर की मौजूदगी में कोलकाता के कार्यालय में समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किया गया है। इससे पहले नेशनल ज्वाइंट कमिटी ऑफ कॉपर की मीटिंग वेज रिवीजन समझौते पर प्रबंधन और यूनियन के बीच एमओयू तैयार किया गया था। मंगलवार को डिप्टी चीफ लेबर कमिश्नर के साथ त्रिपक्षीय समझौते में एमओएस करूप लिया गया है। इसके साथ ही एचसीएल में आठवां वेज रिवीजन समझौता लागू कर दिया गया है।

5 किस्तों में एरियर भुगतान 

कर्मचारियों को इसका लाभ फरवरी महीने से मिलेगा। मजदूरों के खाते में जनवरी महीने के बढ़े हुए वेतन देखने को मिलेंगे। इसके साथ ही उन्हें 62 महीने के एरियर का भुगतान किया जाएगा। 5 किस्तों में होने वाले इस एरियर भुगतान के लिए हर 3 महीने पर किस्त का भुगतान किया जाना है। 8 मार्च से पूर्व पहली किस्त का भुगतान प्रबंधन द्वारा कर्मचारियों को किया जाएगा।

2017 के बाद रिटायर हुए कर्मचारियों को भी एरियर का भुगतान

आज का वेतनमान लागू होने के साथ ही 1 नवंबर 2017 के बाद रिटायर हुए कर्मचारियों को भी एरियर का भुगतान किया जाएगा। इसके साथ ही मजदूरों को एक 11% मिनिमम गारंटीड बेनिफिट के साथ 23 प्रतिशत पर्क्स का भी लाभ दिया जाना है। इसके साथ ही नाइट एडवांस में भी वृद्धि की गई है नाइट अलाउंस को ₹50 से बढ़ाकर ₹75 करने पर सहमति बनी है। सर्विस लिंक एडवांसमेंट स्कीम की अवधि को 6 साल से घटाकर 5 साल किए गए हैं। इसके अलावा ऐसे कर्मचारी जिनको तय समय पर प्रमोशन का लाभ नहीं मिलता है, उनके ग्रेड 5 साल में बढ़ेंगे।

बेनिवॉलेंट फंड को भी ₹20 से बढ़ाकर ₹100 किया गया

साथ ही बेनिवॉलेंट फंड को भी ₹20 से बढ़ाकर ₹100 किया गया है। इसके तहत यदि किसी मजदूर की मृत्यु होती है तो सभी मजदूरों के सैलरी से ₹100 काटकर जितनी राशि एकत्रित होगी, उतनी ही राशि प्रबंधन द्वारा मिलाकर मजदूरों के परिजन को सौंपी जाएगी। कंपनी के इस फैसले के साथ ही अब कर्मचारियों के वेतन में इजाफा देखने को मिलेगा। वहीं फरवरी महीने से उनके खाते में राशि बढ़कर आएगी जब कि होली से पूर्व उन्हें एरियर की एक किस्त का भुगतान किया जाएगा।