शिक्षकों-कर्मियों के लिए खुशखबरी, जल्द मिलेगा प्रमोशन का लाभ, प्रक्रिया शुरू, सचिव ने जारी किए ये निर्देश

officer Promotion

UP Teacher Promotion 2023 : उत्तर प्रदेश के शिक्षकों के लिए खुशखबरी है। ​​​​​बेसिक शिक्षा परिषद के जूनियर बेसिक विद्यालयों के सहायक अध्यापक एवं शिक्षिकाओं को जल्द प्रमोशन का लाभ मिलने वाला है। इस संबंध में बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव प्रताप सिंह बघेल ने प्रदेश के सभी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को पत्र भेजा है और इसको लेकर एक समय सारिणी भी पोर्टल पर जारी की गई है। संभावना है कि शिक्षकों को दिवाली से पहले पदोन्नति का लाभ मिल सकता है।बता दे कि बेसिक शिक्षा विभाग के परिषदीय स्कूलों में कार्यरत शिक्षकों की पदोन्नति प्रक्रिया वर्ष 2015 से रुकी है।

सचिव ने बीएसए को लिखा पत्र

दरअसल, बेसिक शिक्षा परिषद के जूनियर बेसिक विद्यालयों के सहायक अध्यापक एवं शिक्षिकाओं को जल्द प्रमोशन का लाभ मिलेगा। इस संबंध में बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव प्रताप सिंह बघेल ने आठ नवंबर तक पदोन्नति प्रक्रिया को पूरा करने का निर्देश जारी किया है और प्रदेश के सभी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को इसके लिए पत्र भी भेजा गया है।पोर्टल पर अपलोड ज्येष्ठता सूची के सापेक्ष शिक्षकों द्वारा प्राप्त आपत्ति का निस्तारण कर 30 अक्टूबर तक पोर्टल पर अंतिम ज्येष्ठता सूची अपलोड करने के निर्देश दिए गए हैं। वही पात्रता सूची और उसके अनुरूप पदोन्नति की कार्यवाही करने की तिथि आठ नवंबर तय की गई है।

नवंबर तक मिल सकता है प्रमोशन का लाभ

सचिव के आदेश के क्रम में पदोन्नति प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। परिषद के सचिव ने पोर्टल पर अपलोड अंतिम ज्येष्ठता और पात्रता सूची के संबंध में सभी बीएसए से इस आशय का प्रमाणपत्र भी मांगा है कि सहायक शिक्षक व शिक्षिकाओं द्वारा पोर्टल पर अपलोड अनंतिम ज्येष्ठता सूची के सापेक्ष प्राप्त आपत्तियों का निस्तारण नियमानुसार किया जाए और अंतिम ज्येष्ठता एवं पात्रता सूची तैयार की गई है। संभावना जताई जा रही है कि दिवाली से पहले अध्यापकों को पदोन्नति का लाभ मिल सकता है।इससे 68500 सहायक अध्यापक भर्ती के अंतर्गत चुने गए शिक्षकों को प्रमोशन मिलेगा।5 साल की सेवा पूरी कर चुके शिक्षकों को प्रमोशन के हकदार होंगे।

 


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News