कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, मिलेगा प्रमोशन का लाभ, 22 दिसंबर से पहले संभालना होगा कार्यभार

Employee Promotion News : राजस्थान के शिक्षा विभाग (Rajasthan Education Department) के अधिकारियों-कर्मंचारियों के लिए खुशखबरी है। शिक्षा विभाग ने पहली बार बड़े स्तर पर मंत्रालयिक कर्मचारियों को पदोन्नति का तोहफा दिया है। विभाग ने करीब डेढ़ हजार कर्मचारियों के पदोन्नति के बाद पदस्थापन के आदेश जारी किए गए हैं और 22 दिसम्बर तक नए पदस्थापन स्थल पर कार्यभार ग्रहण करने को कहा हैं, अन्यथा प्रमोशन अटक सकता है।

दरअसल, शिक्षा विभाग ने 1400 से ज्यादा कर्मचारियों को प्रमोट कर अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी बनाया है। शिक्षा निदेशक गौरव अग्रवाल ने एक आदेश जारी कर प्रदेश के 1417 सहायक प्रशासनिक अधिकारियों को अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी के पद पर पदोन्नत करते हुए उनके पद स्थापन के आदेश जारी कर दिए।खास बात ये है कि शिक्षा विभाग के इतिहास में यह पहली बार हुआ है जब इतने बड़े स्तर पर कैडर को रिव्यू करते हुए मंत्रालयिक कर्मचारियों को पदोन्नति का लाभ मिला है। वही अधिकांश कर्मचारियों को उनके गृह जिले में ही पदस्थापित किया गया है।

22 दिसंबर तक ग्रहण करना होगा कार्यभार

इसके अलावा जॉइंट डायरेक्टर व अन्य कार्यालय में कार्यरत कर्मचारियों को भी उसी कार्यालय में फिर से पोस्टिंग दी गई है। इन कर्मचारियों को तुरंत नए पद पर कार्यभार ग्रहण के आदेश दिए गए हैं। विभाग 22 दिसम्बर तक नए पदस्थापन स्थल पर कार्यभार ग्रहण करने के आदेश दिए हैं। जो कर्मचारी इस तारीख तक अपनी सीट पर नहीं पहुंचेंगे तो इसे पदोन्नति स्वीकार नहीं करना माना जाएगा।

लंबे समय से मांग कर रहे थे कर्मंचारी

दरअसल, लंबे समय से शिक्षा विभाग में पदोन्नति की प्रक्रिया को लेकर मंत्रालय कर्मचारी इसकी मांग कर रहे थे, लेकिन पदों की संख्या कम होने के चलते पदोन्नति नहीं हो पा रही थी। इसके बाद शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने इस मामले में रिव्यू करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए और कनिष्ठ लिपिक सहित निचले स्तर के पदों को कम करते हुए संस्थापन अधिकारी, प्रशासनिक अधिकारी, अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी और सहायक प्रशासनिक अधिकारी के पदों को बढ़ाया गया।इससे प्रमोशन का रास्ता साफ हो गया।