हजारों कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, मिलेगा इस भत्ते का लाभ, जल्द शुरू होगी प्रक्रिया, ये रहेंगे नियम, इस तरह मिलेगा लाभ

state government

BCCL Employees housing allowance 2023: भारत कोकिंग कोल लिमिटेड यानि बीसीसीएल के कर्मचारियों और कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। कर्मचारियों-अधिकारियों को एक बार फिर आवास भत्ते का लाभ मिल सकता है। खबर है कि कंपनी ने इसको लेकर तैयारियां शुरू कर दी है, संभावना है कि वित्तीय वर्ष 2023-24 से ही लागू किया जा सकता है। अगर सहमति बनती है तो इसका लाभ हजारों कर्मचारियों को मिलेगा।

दरअसल, लगातार हो रहे घाटे को देखते हुए बीसीसीएल प्रबंधन ने कोरोना काल के दौरान अधिकारियों व कर्मचारियों के आवास भत्ते पर रोक लगा दी थी। चुंकी 2 वर्ष पहले तक घाटा 1210 करोड़ तक पहुंच गया था, जिसे चुकाने के लिए कंपनी ने 3500 करोड़ का लोन लिया था, लेकिन अब कंपनी की गाड़ी फिर पटरी पर पहुंच गई है और वित्तिय स्थिति में भी सुधार हुआ है, ऐसे में अब कंपनी फिर से इस भत्ते को शुरू करने की तैयारी में है। वही लंबे समय से एसोसिएशन बीसीसीएल भी इसकी मांग कर रहा है।

दैनिक जागरण की खबर के मुताबिक, कोयला कंपनी के निदेशक मंडल ने आवास भत्ते को फिर से शुरू करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसे वित्तीय वर्ष 2023-24 से ही लागू करने की योजना बनाई जा रही है। वर्तमान में 1924 अधिकारी और 38915 कर्मचारी हैं, ऐसे में कितने को इसका लाभ दिया जाएगा, कितने लोगों को कंपनी के आवास का आवंटन है, यह सब ऑडिट से तय होगा।

करना होगा आवेदन, टीम करेगी सत्यापन

खबर है कि जो कंपनी के आवासों में मकान में न रहकर किराए अथवा निजी फ्लैट में रहते हैं, इसके लिए उन्हें आवेदन करना होगा जिसका सत्यापन अधिकारियों की टीम के द्वारा किया जाएगा। इसके बाद उन्हें इसका लाभ मिलेगा। खास बात ये है कि यह पूरी प्रक्रिया कोल इंडिया गाइड लाइन के तहत पूरी की जाएगी। इधर, अफसर एसोसिएशन बीसीसीएल और कोल वर्कर्स वेलफेयर यूनियन ने इस फैसले का स्वागत किया है।


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News