हजारों कर्मचारियों के लिए जरूरी खबर, ट्रांसफर-नियुक्ति पर अपडेट, 3 जिले चुनने का विकल्प, 25 नवंबर तक मांगे सुझाव

प्रदेश सरकार ने हरियाणा ग्रुप डी कर्मचारी (भर्ती और सेवा की शर्तें) अधिनियम, 2018 के तहत ग्रुप डी कर्मचारियों के ट्रांसफर ड्राइव के संबंध में विभागों से टिप्पणियां और सुझाव मांगे हैं।

employee news
demo pic

चंड़ीगढ़, डेस्क रिपोर्ट। हरियाणा के सरकारी कर्मचारियों के लिए जरूरी खबर है।हरियाणा सरकार ने चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के तबादले की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कॉमन काडर के कर्मचारियों के लिए जल्द ही आनलाइन ट्रांसफर ड्राइव शुरू की जाएगी। इसके लिए 25 नवंबर लास्ट डेट रखी गई है। ट्रांसफर के लिए कर्मचारियों को तीन जिले चुनने का विकल्प दिया जाएगा। इसमें से एक जिले को सरकार प्राथमिकता देगी।

यह भी पढ़े…कर्मचारियों-पेंशनरों के लिए महत्वपूर्ण खबर, पेंशन और ग्रेच्‍युटी पर अपडेट, ये रहेंगे नए नियम

इसका लाभ वर्ष 2018 में भर्ती हुए 18 हजार से अधिक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को मिलेगा। प्रदेश सरकार ने हरियाणा ग्रुप डी कर्मचारी (भर्ती और सेवा की शर्तें) अधिनियम, 2018 के तहत ग्रुप डी कर्मचारियों के ट्रांसफर ड्राइव के संबंध में विभागों से 25 नवंबर 2022 तक टिप्पणियां और सुझाव मांगे हैं। मुख्य सचिव संजीव कौशल द्वारा सभी प्रशासनिक सचिवों को जारी पत्र में 25 नवंबर तक टिप्पणियां और सुझाव भेजने के निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़े..MPPSC 2022: इन पदों पर निकली है भर्ती, 17 दिसंबर से पहले करें Apply, ये रहेंगे नियम, जानें आयु-पात्रता

कर्मचारियों और विभागों से हरियाणा सिविल सचिवालय को डाक के माध्यम से टिप्पणियां और सुझाव भेजने के भी निर्देश दिए हैं।इसके तहत जो कर्मचारी अपने मौजूदा पद से संतुष्ट नहीं हैं उन्हें भी दूसरे पदों पर समायोजित किया जाएगा।इस ट्रांसफर ड्राइव में ग्रुप डी अधिनियम के लागू होने के बाद नियुक्त और हरियाणा सरकार के किसी भी विभाग में तैनात सभी ग्रुप डी कर्मचारी भाग लेने के लिए पात्र हैं।

3 जिले चुनने का होगा विकल्प

खास बात ये है कि इस ड्राइव में ट्रांसफर के लिए कर्मचारियों को तीन जिले चुनने का विकल्प दिया जाएगा। इसमें से एक जिले को सरकार प्राथमिकता देगी। साथ ही उन पदों पर नियुक्त नहीं करने का भी प्रयास किया जाएगा जिन पर वह काम नहीं करना चाहता है। कर्मचारी ग्रुप डी के सभी पदों की सूची में से अधिकतम 50 पदों का चयन कर सकता है, जिनके लिए वह खुद को फिट नहीं समझता है।

इन्हें नहीं मिलेगा मौका

  • किसी भी सांविधिक निकाय, बोर्ड, निगम, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम, संवैधानिक निकाय में तैनात ग्रुप डी कर्मचारी इस अभियान में भाग लेने के पात्र नहीं हैं।
  • निश्चित तिथि से 15 दिनों के भीतर पोर्टल पर आनलाइन आवेदन करने वाले कर्मचारी ही ट्रांसफर ड्राइव के लिए पात्र माने जाएंगे, अन्यथा बाहर होंगे।