कर्मचारियों-पेंशनरों के लिए खुशखबरी! महंगाई भत्ता वृद्धि पर ताजा अपडेट, जल्द मिलेगा लाभ, सैलरी में आएगा बंपर उछाल

नवंबर तक के आंकड़े आ चुके है, जिसमें  अंक 132.5 पर रहा है।खास बात ये है कि  अक्टूबर में भी ये आंकड़ा 132.5 पर ही था, ऐसे में महंगाई भत्ते में 3 फीसदी तक ही बढोतरी होने की संभावना है, यह 38 फीसदी से 41 हो सकता है।

Central Employee DA Hike 2023: केन्द्रीय कर्मचारियों के लिए महत्वपूर्ण खबर है।  2023 में होने वाले महंगाई भत्ते पर बड़ी अपडेट सामने आई है। पहले कयास लगाए जा रहे थे कि डीए में 4 से 5 फीसदी तक वृद्धि हो सकती है, लेकिन AICPI इंडेक्स के जारी आंकड़ों के अनुसार  अक्टूबर नवंबर के अंकों में समानता के बाद माना जा रहा है कि 3 फीसदी तक ही बढ़ोतरी होने की संभावना है। हालांकि अभी दिसंबर के आंकड़े आना बाकी है, अगर इसमें उछाल आता है तो मार्च में घोषित होने वाले महंगाई भत्ता में भी इजाफा हो सकता है।

दरअसल, साल में 2 बार केन्द्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ाया जाता है, यह AICPI इंडेक्स के आंकड़ों पर निर्भर करता है। नवंबर तक के आंकड़े आ चुके है, जिसमें  अंक 132.5 पर रहा है।खास बात ये है कि  अक्टूबर में भी ये आंकड़ा 132.5 पर ही था, ऐसे में महंगाई भत्ते में 3 फीसदी तक ही बढोतरी होने की संभावना है, यह 38 फीसदी से 41 हो सकता है। हालांकि अभी दिसंबर के आंकडे आना बाकी है, अगर इसमें उछाल आता है तो बढ़ोतरी 4 से 5 फीसदी तक भी जा सकती है। महंगाई भत्ता 42 या 43 फीसदी भी हो सकता है।

मार्च तक होगी घोषणा

फिलहाल दिसंबर के आंकड़े आना बाकी है, दूसरी छमाही में AICPI इंडेक्स के नंबर्स से तय होगा कि जनवरी 2023 में कितना महंगाई भत्ता बढ़ेगा। इसकी घोषणा मार्च 2023 तक की जा सकती है वही इसे 1 जनवरी 2023 से लागू किया जा सकता है।वेतन एवं पेंशन निर्धारण के विशेषज्ञ एजी ब्रदरहुड के पूर्व अध्यक्ष हरिशंकर तिवारी के अनुसार औद्योगिक मूल्य सूचकांक 382 अंक है। यदि दिसंबर का सूचकांक 382 अंक रहा तो जनवरी से दिसंबर 2022 के बीच सूचकांक का योग 4468 अंक होगा।इस तरह से 12 महीने का औसत 372.33 अंक होगा।

कितनी बढ़ेगी सैलरी

फार्मूले के तहत इस औसत मूल्य सूचकांक पर महंगाई भत्ता 42.43 प्रतिशत देय होगा। महंगाई भत्ता पूर्णांक में होता है। इसलिए डीए 42 फीसदी देय होगा।माना जा रहा है कि अगर 4 फीसदी डीए बढता है तो कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में कुल ₹720 प्रति और अधिकतम सैलरी रेंज के कर्मचारियों के लिए ₹2276 प्रति महीने की दर से वृद्धि तय है। इसका लाभ 48 लाख कर्मचारियों और 68 लाख पेंशनर्स को होगा।इसका ऐलान 1 मार्च को हो सकता है, चुंकी इसी दिन कैबिनेट की बड़ी बैठक होनी है, हालांकि अभी सरकार की तरफ से पुष्टि या ऐलान नहीं किया गया है।