होली से पहले कर्मचारियों-शिक्षकों को मिलेगा बड़ा तोहफा, राज्य सरकार की तैयारी, पेंशन-ईपीएफ का मिलेगा लाभ, खाते में बढ़ेगी राशि

Kashish Trivedi
Published on -
employees

Employees-Teachers Salary Pension : राज्य सरकार को होली से पहले बड़ा तोहफा मिलेगा। दरअसल एक तरफ जहां उन्हें पेंशन और पीएफ का लाभ दिया जा रहा है। वही उनके वेतन भी समय पर उनके खाते में भेजे जाएंगे। राज्य सरकार द्वारा इसकी तैयारी की जा रही है। शिक्षा मंत्री द्वारा प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई है अभी इसे वित्त और विधि विभाग को भेजा जाना है।

कर्मचारियों को पेंशन और पीएफ का लाभ

झारखंड के 61000 शिक्षकों- कर्मचारियों को हेमंत सरकार बड़ा तोहफा देगी। होली से पहले उन्हें इस तोहफे का लाभ मिलेगा। दरअसल सभी शिक्षक और कर्मचारियों को पेंशन और पीएफ का लाभ मिलने वाला है। 61000 सहायक शिक्षक को भी ईपीएफ और पेंशन के दायरे में लाया जाएगा। 61000 सहायक शिक्षक और पारा शिक्षकों पीएफ का लाभ मिलने के लिए शिक्षा मंत्री द्वारा प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई है। इसे वित्त और विधि विभाग को भेजा जाएगा। कैबिनेट की मंजूरी मिलने के साथ ही 61 हजार शिक्षकों को ईपीएफ का लाभ मिलने लगेगा।

इन कर्मचारियों को मिलेगा लाभ 

ईपीएफ के लिए शिक्षकों के मानदेय में 12% राशि काटी जाएगी जबकि 13% राशि का भुगतान राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा। पिछले कई वर्षों से शिक्षक और कर्मचारी द्वारा पेंशन और ईपीएफ की मांग की जा रही है। वहीं अब राज्य सरकार द्वारा पेंशन और इपीएफ स्कीम के साथ सहायक शिक्षक और झारखंड शिक्षा परियोजना में कार्यरत सभी कर्मचारियों को भी इसमें जोड़ा जाएगा। इसमें कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय सहित झारखंड बालिका आवासीय विद्यालय के शिक्षक और कर्मचारी के साथ-साथ बीआरपी-सीआरपी और परियोजना में कार्यरत अन्य कर्मचारी भी शामिल रहेंगे।

152 करोड़ रुपए का अतिरिक्त खर्च

इससे पहले पारा शिक्षक के मानदेय में वृद्धि की गई थी। 1 जनवरी से पारा शिक्षकों को 4 फीसद बढ़ोतरी तय की गई है। वहीं पारा शिक्षकों के मानदेय में हर साल 4 फीसद की बढ़ोतरी देखने को मिलेगी। वहीं शिक्षकों कर्मचारियों को ईपीएफ का लाभ देने में सरकार को 152 करोड़ रुपए का अतिरिक्त खर्च देखने को मिलेगा। वही इतनी ही राशि शिक्षकों कर्मचारियों के मानदेय से काटी जाएगी। पारा शिक्षक समेत 6000 से अधिक शिक्षकों और कर्मचारियों को ईपीएफओ से जोड़े जाने की तैयारी की जा रही है।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News