11.5 लाख पेंशनरों को बड़ी राहत, रिटायरमेंट से 3 दिन पहले होगा पेंशन-ग्रेच्युटी का भुगतान

रिटायरमेंट से छह माह पहले ई-पेंशन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। पेंशन के पेपर रिटायर होने से तीन महीने पहले मिल जाएंगे।

pension

लखनऊ, डेस्क रिपोर्ट। यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार(UP Yogi Aditya Nath Government) ने राज्य के  कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है। इसके तहत  ई-पेंशन पोर्टल से कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति से तीन माह पहले ही पेंशन, ग्रेच्युटी आदि के भुगतान आदेश जारी हो जाएंगे। पेंशनर्स को अपनी पहली पेंशन के भुगतान के लिए कोषागार में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने की जरूरत भी नहीं होगी यानि सेवानिवृत्त होने के 3 दिन के अंदर कर्मचारियों का सारा पैसा क्लियर होकर उनके खाते में पहुंच जाएगा ।

यह भी पढ़े.. राज्य के लाखों कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज, फिर बढ़ेगा 3% DA! जानें कितनी बढ़कर मिलेगी सैलरी

दरअसल, रविवार मजदूर दिवस के दिन सीएम  योगी आदित्यनाथ ने  प्रदेश के 11.5 लाख से अधिक पेंशनरों को ईज ऑफ लिविंग (सुगम जीवन) की बड़ी सौगात देते हुए ऑनलाइन सेवा पोर्टल (e-pension portal) का शुभारंभ किया।इस दौरान 31 मार्च को रिटायर हुए 1220 पेंशनरों के खातों में पेंशन भी हस्तांतरित की गई और अंतरविभागीय समिति बनाकर मृतक आश्रितों के लिए भी पोर्टल विकसित करने के निर्देश दिए। ई-पेंशन पोर्टल की सुविधा देने वाला यूपी देश का पहला राज्य बन गया है।

एक सरकारी प्रवक्ता के अनुसार यह पेंशन पोर्टल वित्त विभाग ने तैयार किया है। इसमें रिटायरमेंट के छह माह पहले से ही कर्मचारी के आवेदन के साथ ही पेंशन आदि की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी और तीन माह शेष रहने तक पेंशन, ग्रेच्युटी आदि के भुगतान के आदेश जारी हो जाएंगे। रिटायरमेंट से छह माह पहले ई-पेंशन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। पेंशन के पेपर रिटायर होने से तीन महीने पहले मिल जाएंगे।यह सारी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी यानी पेपरलैस, कैशलेस।

यह भी पढ़े.. Bank Holiday: आज से लगातार 4 दिन बंद रहेंगे बैंक, चेकबुक-पासबुक के काम हो सकते है प्रभावित

इस संबंध में उत्तर प्रदेश के वित्त विभाग की तरफ से यह शासनादेश सचिव संजय कुमार की तरफ से जारी कर दिया गया है।आदेश के तहत, सेवानिवृत्त होने वाले राज्य सरकार के अधीन सभी विभाग और निगमों के कर्मचारियों का पीएफ आदि का पैसा और पेंशन की समस्या समाप्त होगी। 3 दिन के अंदर ही कर्मचारियों का सभी प्रकार का पैसा उनके खाते में पहुंच जाएगा।इसके तहत पेंशन के हकदार राज्य के कर्मचारी को सेवानिवृत्त होने के 3 दिन के भीतर ही पेंशन की राशि उसके बैंक खाते में जमा हो जाएगी।

बता दे कि इससे पहले योगी सरकार ने पंडित दीनदयाल उपाध्यायराज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना शुरू की थी और इसके लिए राज्य मंत्रिमंडल ने उत्तर प्रदेश शासकीय सेवक नियमावली 2016 में संशोधन के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी थी, जिसके तहत 28 लाख राज्य कर्मचारियों और पेंशनरों को कैशलेस इलाज की सुविधा मिलेगी।

ऐसे मिलेगा लाभ

  • ऑनलाइन सेवा पोर्टल epension.up.nic.in के तहत PPO जारी हो जाने के बाद ग्रेच्युटी, राशिकरण का
  • भुगतान कार्मिक की सेवानिवृत्ति तारीख के बाद 3 कार्य दिवसों में होगा।
    तय तिथि पर पेंशनर के बैंक खाते में पेंशन का भुगतान भी ऑनलाइन होगा।
  • कर्मचारी को उसके लागिन आइडी बन जाने के एक महीने के अंदर यूनीक इम्प्लाई कोड और पंजीकृत मोबाइल नंबर का इस्तेमाल कर सकेंगे।
  • ई-पेंशन पोर्टल पर प्रदर्शित हो रहे फार्म को ऑनलाइन भरना होगा।
  • इस दौरान अपने सेवा संबंधी अभिलेख पोर्टल पर अपलोड भी कर सकते हैं।