big-shock-to-the-Congress-mp-bhubaneswar-kalita-resigned-from-rajya-sabha

नई दिल्ली| कांग्रेस को आज एक और बड़ा झटका लगा है। राज्यसभा में कांग्रेस के व्हिप भुवनेश्वर कलिता ने सोमवार को अपना इस्तीफा दे दिया। भुवनेश्वर कलिता कांग्रेस के वहीं सांसद थे जिन्हें आज कश्मीर मुद्दे को लेकर व्हिप जारी करना था लेकिन उन्होंने इस्तीफा देकर पार्टी को चौंका दिया। बता दें कि इससे पहले गांधी परिवार के करीबी रहे संजय सिंह राज्यसभा से इस्तीफा देकर बीजेपी जॉइन कर चुके हैं। उधर, अटकलें लगाई जा रही हैं कि कलिता भी बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। वहीं, सोमवार को समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सेठ ने भी इस्तीफा दे दिया। राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि दोनों का इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया है। 

इस्तीफ़ा देने के बाद भुवनेश्वर कलिता ने बड़ा बयान दिया है| उन्होंने कहा कि पंडित नेहरू ने खुद अनुच्छेद 370 का विरोध किया था और कहा था कि एक दिन घिसते-घिसते यह खत्म हो जाएगा| आज की कांग्रेस की विचारधारा से लगता है कि कांग्रेस आत्महत्या कर रही है और मैं इसमें कांग्रेस का भागीदार नहीं बनना चाहता हूं, मैं इस व्हिप का पालन नहीं करूंगा और मैं कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा देता हूं| उन्होंने पार्टी को नसीहत भी दी और कहा कि आज की कांग्रेस पार्टी का नेतृत्व पूरी तरह से पार्टी को तबाह करने का काम कर रही है. मेरा मानना है कि अब इस पार्टी को तबाह होने से कोई नहीं बचा सकता|  

उधर, समाजवादी पार्टी को भी सोमवार को राज्यसभा में एक और बड़ा झटका लगा। पार्टी से राज्यसभा सांसद संजय सेठ ने राज्यसभा और पार्टी दोनों से इस्तीफा दे दिया। बताया जा रहा है कि संजय सेठ भी जल्दी ही बीजेपी में शामिल हो सकते हैं।  उच्च सदन की बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने नागर, सेठ और भुवनेश्वर कालिता के इस्तीफे के बारे में सदन को जानकारी दी। नायडू ने बताया कि इन सदस्यों ने दो अगस्त को अपने अपने इस्तीफे दिए, जिन्हें स्वीकार कर लिया गया है। इनमें सुरेंद्र नागर, संजय सेठ और भुवनेश्वर कालिता शामिल हैं।