हजारों पेंशनरों के लिए बड़ी अपडेट, जल्द पूरा करें ये काम, वरना रूक सकती है अप्रैल-मई की पेंशन

जनपद में कुल 61.71 हजार पेंशनर हैं,अभी तक केवल 11 हजार पेंशनरों ने ही खाता लिंक करवाया है, अभी 50 हजार पेंशनरों का ब्यौरा पेंशन पोर्टल पर फीड नहीं किया गया है।

pension

अलीगढ़/आजमगढ़ डेस्क रिपोर्ट।Pension News. उत्तर प्रदेश के हजारों पेंशनरों (UP Pensioners) के लिए बड़ी खबर है।जल्द से जल्द अपने बैंक खाते को आधार कार्ड से लिंक करवा लें, वरना अगले महीने की पेंशन रूक या अटक सकती है। इसके लिए 30 अप्रैल तक का समय दिया गया है। यूपी शासन ने पेंशन का लाभ लेने के लिए ई-केवाईसी और बैंक खाते को आधार कार्ड से लिंक कराने का निर्देश दिया है।

यह भी पढ़े.. CM का इन कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, वेतन में 7500 की वृद्धि, आदेश जारी, जानें कितनी बढ़ेगी सैलरी?

दरअसल,  यूपी सरकार द्वारा बुजुर्गों को वृद्धा पेंशन योजना के माध्यम से 1000 रुपये मासिक की दर से पेंशन प्रदान की जाती है।इसके लिए 60 वर्ष से अधिक उम्र होनी चाहिए। ऐसे में आजमगढ़ में भी अभी तक कई पेंशनरों ने अपने बैंक खाते को आधार कार्ड से लिंक नहीं करवाया है, ऐसे में खाता लिंक ना होने पर पेंशन नही मिलेगी। यदि पेंशन खाता और आधार कार्ड के नाम में मामूली सा अंतर भी दिखाई देगा तो इसे आधार कार्ड के अनुरूप ही भरना होगा। इसके लिए संबंधित पात्र पोर्टल एवं निकट के जनसेवा केंद्र पर जाकर स्वयं अपने पेंशन खाते को आधार से लिक कराएं। यदि नहीं कराया तो उसकी पेंशन रुक जाएगी।

एडीओ समाज कल्याण ने सभी ग्राम पंचायत अधिकारी व ग्राम प्रधानों को निर्देश दिए है कि अपने-अपने ग्राम पंचायतों में पेंशन ले रहे पेंशनरों का जल्द से जल्द खाता आधार से लिंक कराएंइधर अलीगढ़ में भी अभी तक हजारों पेंशनरों ने खाता आधार से लिंक नहीं करवाया है। जनपद में कुल 61.71 हजार पेंशनर हैं,अभी तक केवल 11 हजार पेंशनरों ने ही खाता लिंक करवाया है, अभी 50 हजार पेंशनरों का ब्यौरा पेंशन पोर्टल पर फीड नहीं किया गया है।हैरानी की बात तो ये है कि अप्रैल का महीना खत्म होने को है और गांवों में तैनात पंचायत सचिवों और अधिकारियों की लापरवाही से हजारों का खाता अबतक आधार लिंक नहीं हो पाया है।

यह भी पढ़े,, 3 नई योजनाएं मंजूर, कई पदों पर भर्ती, प्राकृतिक कृषि विकास बोर्ड का गठन, पढ़े शिवराज कैबिनेट के 10 बड़े फैसले

इस देरी के चलते अलीगढ़ 70वें स्थान पर है। यह श्रेणी रेड जोन में आती है। इस संबंध में समाज कल्याण विभाग की तरफ कई बार आदेश जारी किया जा चुका है।जिला समाज कल्याण अधिकारी ने भी साफ कह दिया है कि वृद्धावस्था पेंशन पाने वाले लाभार्थियों को अब आधार होने पर ही भुगतान मिलेगा। ऐसे में सभी लाभार्थियों को न सिर्फ वृद्धावस्था पेंशन पोर्टल पर आधार को अपलोड करना होगा, बल्कि पेंशन वाले खाते से संबंधित बैंक की शाखा में जाकर अपने आधार विवरण की छाया प्रति जमा भी करनी होगी।

फतेहपुर जिले में भी 43 हजार बुजुर्गों की पेंशन खतरे में आ गई है।अभी तक 18 हजार बुजुर्ग ही आधार प्रमाणीकरण से जुड़ पाए हैं। अब भी 43 हजार से ज्यादा बुजुर्ग बिना प्रमाणीकरण के योजना में जुड़े हुए हैं।  पंचायत सचिवों द्वारा वृद्धा पेंशन लेने वाले बुजुर्गों के आधार कार्ड की अबतक फीडिंग पेंशन पोर्टल नहीं की गई है। चुंकी अब पेंशन उसी को मिलेगी, जिसका बैंक खाता व पेंशन पोर्टल का रिकार्ड आधार से लिंक होगा।  वही जौनपुर जनपद के 1.36 लाख वृद्धा पेंशन धारकों को भी 30 अप्रैल तक का समय दिया गया है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, जल्द मिलेगा पुरानी पेंशन का लाभ! जानें ताजा अपडेट