पेंशनरों की पेंशन पर बड़ी अपडेट, जून से मिलेगी बढ़ी हुई राशि, 7.50 लाख को होगा लाभ

सामाजिक सुरक्षा पेंशन के दायरे में शामिल 7.50 लाख से अधिक लाभार्थियों को जून में मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही की पेंशन सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते में जाएगी।

Minimum Wages

शिमला, डेस्क रिपोर्ट। Pension News. हिमाचल प्रदेश के लाखों पेंशनरों (Himachal Pradesh Pensioners) के लिए अच्छी खबर है। सामाजिक सुरक्षा पेंशन को लेकर बड़ी अपडेट सामने आई है। पेंशनरों को बढ़ी हुई पेंशन जून में मिलेगी। इससे 7 लाख पेंशनर्स लाभान्वित होंगे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने निर्देश दिए है कि मई तक सभी पात्र लाभार्थियों का डाटा एकत्र कर जून में पहली तिमाही की पेंशन का भुगतान किया जाए।

यह भी पढ़े.. लापरवाही पर सीईओ का बड़ा एक्शन- 52 कर्मचारियों का वेतन काटा, होगी कार्रवाई

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सीएम जयराम ठाकुर ने बजट समीक्षा बैठक में अधिकारियों को मई तक सभी पात्र लाभार्थियों का डाटा एकत्र कर जून में पहली तिमाही की पेंशन का भुगतान करने के निर्देश दिए हैं, जिसके बाद सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग ने तैयारियां तेज कर दी है। इसके तहत प्रदेश में सामाजिक सुरक्षा पेंशन के दायरे में शामिल 7.50 लाख से अधिक लाभार्थियों को जून में मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही की पेंशन सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते में जाएगी।

दरअसल, आगामी चुनावों को देखते हुए हिमाचल प्रदेश की जयराम ठाकुर सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन पर फोकस करना शुरु कर दिया है। पिछले 4 सालों में सामाजिक सुरक्षा पेंशन का दायरा बढ़ाने के साथ साथ पेंशन की राशि में भी वृद्धि की है।इसमें सरकार ने पेंशन पात्रता की आय सीमा को 35000 से बढ़ाकर 50000 कर दिया है, वही पहले 80 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन मिलती थी, अब बिना आय सीमा के 70 साल वालों को भी पेंशन दी जा रही है।

यह भी पढ़े.. MP Job Alert: युवाओं के लिए नौकरी पाने का सुनहरा मौका, रोजगार मेले का आयोजन, 25000 तक सैलरी

वही 2022 में सरकार ने एक और बड़ा फैसला लेते हुए 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को भी सामाजिक सुरक्षा पेंशन के दायरे में शामिल करने के साथ पेंशन राशि में भी वृद्धि की है।हाल ही में इस संबंध में आदेश जारी किए गए थे।2017 -18 में प्रदेश में सामाजिक सुरक्षा पेंशन के लाभार्थियों की संख्या 4.15 लाख थी और 450 करोड़ रुपये सालाना खर्च होते थे। वही अब मौजूदा वित्त वर्ष के बजट में 7 लाख 50 हजार से अधिक लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन के दायरे में लाया जाना है, ऐसे में चालू वित्त वर्ष में 1300 करोड़ की राशि पेंशन पर खर्च होगी।