BJP के वरिष्ठ नेता और पूर्व विधायक का निधन, बीते दिनों PM की थी फोन पर बात

जयपुर।
कोरोना संकटकाल और लॉकडाउन के बीच बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रदेशाध्यक्ष भंवरलाल शर्मा का शुक्रवार देर रात निधन हो गया। वे पिछले लंबे अरसे से अस्वस्थ चल रहे थे।वे 95 साल के थे। हाल ही में पीएम मोदी ने उन्हें फोन करके उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली थी। उनके निधन से राजनीतिक हलकों में शोक की लहर छा गई है। पीएम मोदी, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे सहित कई नेताओं ने उनके निधन पर गहरी संवेदना व्यक्त की है।वही एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज ने भी शोक जताया है।

भंवरलाल शर्मा बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष के साथ पूर्व में भैरोंसिंह शेखावत की सरकार में मंत्री रहे थे। वे प्रदेश में लगातार छह बार विधायक रहे और तीन बार पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष रहे थे। शुक्रवार को उनके निधन के बाद जयपुर के परकोटे स्थित गणगौरी बाजार में उनके पैतृक निवास पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का पहुंचना शुरू हो गया। पार्थिव देह के अंतिम दर्शनों के लिए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया, सांसद रामचरण बोहरा सहित प्रदेश के कई वरिष्ठ नेता वहां पहुंचे।

कुछ दिनों पहले ही पीएम मोदी से हुई थी बात

कोरोना महामारी की वजह से जारी लॉकडाउन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर के वरिष्ठ भाजपा नेताओं से फोन के जरिए संपर्क कर हालचाल जाना था। इनमें पंडित भंवरलाल शर्मा भी शामिल थे। फोन पर बातचीत में पीएम नरेंद्र मोदी ने भंवरलाल शर्मा से पूछा कि आपके वहां माहौल कैसा है। तब, फोन पर जवाब देते हुए शर्मा ने कहा कि कारोना से बचाव के लिए राष्ट्रहित में लिए गए आपके निर्णय बहुत उत्तम है। पूरा देश आपके साथ है। शर्मा ने मोदी से यह भी कहा कि वैश्विक महामारी में देश विजयी होगा। आप अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखिएगा। इतना ही नही उस समय शर्मा ने पीएम से कहा ‘परं वैभवं नेतुमेतत् स्वराष्ट्रं’। इसका मतलब है, ईश्वर के आशीर्वाद से आप राष्ट्र को परम वैभव की स्थिति पर ले जाने में पूर्णतः समर्थ है। इस पर पीएम मोदी ने कहा था कि सब आप का आशीर्वाद है और आप लोगों से ही सीखा है।

शिवराज ने जताया शोक
शिवराज ने ट्वीट कर लिखा है कि बीजेपी परिवार के वरिष्ठ सदस्य और राजस्थान के पूर्व अध्यक्ष भंवरलाल शर्मा जी के निधन के समाचार से अत्यधिक दुःख हुआ। राष्ट्र उत्थान और जनसेवा के आपके कार्य सदैव परिवार के युवा साथियों को प्रेरित करते रहेंगे। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति और परिजनों को संबल दें ! ॐ शांति!

गहलोत और वसुंधरा ने भी जताया दुख
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शर्मा के निधन पर संवेदना व्यक्त की हैं। सीएम गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष व पूर्व मंत्री भंवर लाल शर्मा के निधन का समाचार दुखद है। इस कठिन समय में मेरी गहरी संवेदना शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं। ईश्वर से प्रार्थना है उन्हें सम्बल दें और दिवगंत आत्मा को शांति प्रदान करें। वही पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी शोक जताया है। उन्होंने भी ट्वीट करके कहा कि भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष श्री भंवर लाल शर्मा जी के निधन का समाचार सुन मन व्यथित है। जनसंघ के स्तंभकार, उन्होंने अपने लम्बे राजनीतिक सफर में हमेशा गरीबों व वंचितों की आवाज उठाई तथा समाजसेवा को अपने जीवन का परम ध्येय माना। इस ट्वीट के साथ राजे ने एक तस्वीर भी साझा की है।

प्रधानमंत्री मोदी ने प्रकट किया शोक
प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने शुक्रवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता और पार्टी की राजस्थान इकाई के पूर्व अध्यक्ष भंवरलाल शर्मा के निधन पर दुख प्रकट किया. मोदी ने ट्वीट किया, “भंवरलाल शर्मा जी के गुजर जाने से गहरा दुख हुआ. राजस्थान में पार्टी को मजबूत बनाने में उनकी भूमिका बहुमूल्य रही.” उन्होंने कहा कि शर्मा का जीवन नि:स्वार्थ और सादगीपूर्ण था. प्रधानमंत्री ने लिखा, “उनके परिवार और शुभेच्छुओं के लिए संवेदना प्रकट करता हूं. ओम शांति.”

ऐसा रहा था राजनैतिक सफर

1964 में नगर परिषद के चैयरमेन
1971 में किशनपोल से चुनाव लड़ा
1975 में आपातकाल में सत्याग्रह कर कारागार में रहे
1977 में हवामहल विधानसभा से चुनाव जीतकर पहली बार विधयक बने।
1978 में पहली बार मंत्री बने, उच्च शिक्षा, स्वयत्तशासन नगरीय विकास, आवासन व खेल मंत्री बने।
1980 से 1990 तक विधायक
1989 में प्रदेशाध्यक्ष रहे
1990 में पुनः जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी, स्वयत्तशासन, नगरीय विकास, आवासन व खेल मंत्री बने।
2000 से 2002 तक तीसरी बार भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बनाए गए।