कद्दावर BJP नेता विजय प्रताप सिंह का निधन, पार्टी में शोक लहर, पूर्व सांसद के थे पुत्र

सूरजपुर, डेस्क रिपोर्ट
भाजपा के कद्दावर नेता और ओडग़ी क्षेत्र से जिला पंचायत सदस्य रहे विजय प्रताप सिंह (Vijay Pratap Singh) का सोमवार देर रात निधन हो गया। विजय प्रताप लम्बे समय से बीमार चल रहे थे, वे किडनी की बीमारी से ग्रसित थे।उनके निधन के बाद से ही पार्टी में शोक लहर है।कई बड़े नेताओं ने उनके निधन पर दुख जताया है।

प्रताप किडनी की बीमारी से ग्रसित थे, हाल ही में उन्हें किडनी ट्रांसप्लांट के लिए कोयंबटूर ले जाया गया था, यहां अस्पताल ले जाते समय उनकी मौत हो गई। विजय प्रताप सिंह के निधन से सूरजपुर जिले समेत अविभाजित सरगुजा में शोक की लहर फैल गई है।

विजय प्रताप सिंह (Vijay Pratap Singh) सूरजपुर जिले के शिवप्रसादनगर निवासी थे। वर्तमान में वे ओडग़ी क्षेत्र से वे जिला पंचायत सदस्य थे। वहीं अविभाजित सरगुजा के जिला पंचायत अध्यक्ष भी रहे थे।वर्ष 2014 के विधानसभा चुनाव में पार्टी का टिकट नहीं मिलने से उन्होंने बगावत भी किया था। फिलहाल वे भाजपा के सक्रिय सदस्य थे। 2018 में विधानसभा चुनाव में प्रेम नगर से बीजेपी के प्रत्याशी भी रहे। विजय पूर्व सांसद व भाजपा के वरिष्ठ नेता स्व.शिवप्रताप सिंह के पुत्र (Former MP and senior BJP leader Late Shiv Pratap Singh) थे।उनके पिता स्व. शिवप्रताप सिंह राज्यसभा सांसद व छत्तीसगढ़ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके थे।