BJP विधायक बोले- नासमझ जमात के लोगों को तो जंगल में छोड़ देना चाहिए

हैदराबाद।

अपने बयानों से हमेशा सुर्खियों में रहने वाले हैदराबाद के गोशामहल से बीजेपी विधायक राजा सिंह ने एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। राजा का कहना है कि कुछ नासमझ जमात के लोग डॉक्टर्स, नर्सेज और पुलिस वालो पर हमला कर रहे है।मैं सभी सरकारों से विनती करता हुं ऐसे लोगो एक जंगल मे शेड बनाकर उसमें छोड़ दे ताकि इनकी वजह से अन्य लोगो को परेशानी न हो।बता दे कि राजा सिंह वही बीजेपी विधायक है जिन्होंने हैदराबाद एनकाउंटर और सीएए का खुलकर समर्थन किया था।

दरअसल , नई दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से देश के कोने कोने में फैले मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा किए जा रहे शर्मनाक और गैर जिम्मेदाराना हरकतों के बीच हैदराबाद के गोशामहल से बीजेपी विधायक राजा सिंह ने ट्वीट के जरिए मुख्यमंत्री से इन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की अपील की है। राजा सिंह ने ट्वीट कर लिखा है कहा देश आज कोरोना वायरस से परेशान है और इस समय कुछ नासमझ जमात के लोग डॉक्टर्स, नर्सेज और पुलिस वालो पर हमला कर रहे है।मैं सभी सरकारों से विनती करता हु ऐसे लोगो एक जंगल मे शेड बनाकर उसमें छोड़ दे ताकि इनकी वजह से अन्य लोगो को परेशानी न हो।

जंगल में ले जाकर छोड़ दिया जाए इन्हें

वही अपने वीडियो के जरिए ट्वीट करते हुए राजा सिंह ने कहा दिल्ली निजामुद्दीन गए बहुत से लोग बाहर से आए हुए विदेशियों के संपर्क में आकर कोरोना पॉजिटिव हुए और अब वो देश के विभिन्न हिस्से में घूम कर यह बीमारी और लोगों तक फैला रहे हैं। डॉक्टर आपके इलाज, आपकी जान बचाने के लिए हैं और आपके द्वारा किए जाने वाला यह कृत्य कहीं से शोभनीय नहीं है। वह इस तरह के लोगों का समाज से बहिष्कार करें क्योंकि यह देश के लिए खतरा है मुस्लिम कौम के साथ-साथ आस-पड़ोस एवं रिश्तेदार के लिए भी खतरा है। यह समाज के सबसे बड़े शत्रु हैं। आज मरकज से वापस आए सारे लोग तेलंगना के लिए खतरा बने हुए है। राजा सिंह ने मुख्यमंत्री से अपील की है कि जो भी प्रशासन के खिलाफ जाए एवं इस विषम परिस्थिति में सहयोग ना करें उनके ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करते हुए जंगल में एक क्वारांटाइन बनाकर वहां छोड़ दे।

औवेसी पर हमला

वहीं उन्होंने कहा ओवैसी के ट्वीट को लेकर कहा कि वे आजकल सिर्फ ट्वीट के जरिए ही बात करेंगे या फिर अपने लोगों को समझाएंगे भी कि उनके द्वारा किया गया यह कृत्य सही नहीं है। वहीं उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी को सलाह दी है कि कम से कम ऐसे लोगों का समर्थन ना कर उन्हें समझाएं कि देश किस विपदा से गुजर रहा है और उन्हें खुद का इलाज करवा कर उन्हें देश पर उपकार करना चाहिए।

गौरतलब हो कि दिल्ली निजामुद्दीन से देश के विभिन्न कोने में आए हुए लोग के करुणा पॉजिटिव लोगों के संपर्क में आने से कई लोग पॉजिटिव हो गए हैं। अब इस संक्रमण के साथ वो ना सिर्फ अपने इलाज में मदद नहीं कर रहे बल्कि डॉक्टरों पर हमले के साथ-साथ नर्सों से भी बुरे बर्ताव कर रहे हैं। जिसके बाद सभी ने राज्य की सरकारी एवं केंद्र इन को लेकर सख्त हो गई है।