बीजेपी कार्यकर्ता ने पूर्व कांग्रेस विधायक को जड़ा थप्पड़, धक्का मुक्की, वीडियो वायरल

विधायक

धर्मशाला, डेस्क रिपोर्ट। सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल (Video Viral) हो रहा है, जिसमें एक बीजेपी कार्यकर्ता कांग्रेस के पूर्व विधायक जगजीवन पाल (Former MLA Jagjivan Pal) को थप्पड़ मारते हुए नजर आ रहा है।पूरा मामला हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा के सुलह विधानसभा क्षेत्र का है।हालांकि घटना के बाद पुलिस ने आऱोपी बीजेपी कार्यकर्ता को गिरफ्तार कर लिया है।वही कांग्रेस (Congress) ने इस घटना की कड़ी निंदा की है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert : जल्द बदलेगा मप्र का मौसम, आज इन जिलों में बारिश के आसार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पूरा मामला हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा के सुलह विधानसभा क्षेत्र का है। जहां सुलह विधानसभा चुनाव क्षेत्र (Sulh Assembly Constituency)  की रड़ा पंचायत में पंचायत भवन के शिलान्यास का कार्यक्रम रखा गया था, भाजपा विधायक और विधानसभा स्पीकर विपिन सिंह परमार शिलान्यास करने वाले थे, लेकिन पंचायत प्रधान और बाकी सदस्यों को शिलान्यास की जानकारी नहीं थी और इसी बात पर पूर्व विधायक जगजीवन पाल भी परमार का विरोध करने जा रहे थे।

इससे पहले कि जगजीवन पाल शिलान्यास स्थल पर पहुंचते, पुलिस ने उन्हें बीच में ही रोक लिया । इस दौरान जगजीवन पाल को एक शख्स ने पीछे से थप्पड़ जड़ दिया और धक्का भी दे दिया।हालांकि पुलिस (Himachal Pradesh Police) ने आरोपी को तुरंत गिरफ्तार कर लिया। कांग्रेस ने आरोपी को बीजेपी कार्यकर्ता बताया है।

यह भी पढ़े.. शिवराज सरकार का बड़ा फैसला- आगामी चुनावों से पहले पूर्व मंत्री को सौंपी अध्यक्ष की जिम्मेदारी

पूर्व विधायक ने कहा है कि भीड़ में गांव के लड़के जसवीर कुमार ने उनके सिर पर किसी चीज से चोट मारी है, जिसकी शिकायत पुलिस को दी गई है। जब तक न्याय नहीं होता, तब तक आमरण अनशन जारी रहेगा। वही विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार का कहना है कि मैंने जो भी किया है, ठीक किया है और मुझे किसी प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं है।

पूर्व मंत्री ने की घटना की निंदा

इस वीडियो को शेयर करते हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने लिखा है कि हिमाचल प्रदेश में क्या गुंडा राज स्थापित हो गया है ?कांगड़ा के सुलह की रड़ा पंचायत में विरोध प्रदर्शन के लिए जा रहे पूर्व विधायक एवं सीपीएस जगजीवन पाल जी के साथ भाजपाई गुंडों द्वारा पुलिस की मौजूदगी में की गयी बदसलूखी अति निंदनीय है