मुंबई, डेस्क रिपोर्ट| कोरोना काल में सैनिटाइजर (Sanitizer) का उपयोग काफी बढ़ गया है और यह आम लोगों की जिंदगी का एक हिस्सा बन चुका है। लेकिन कोरोना (Corona) से बचाने वाला सैनिटाइजर कई बार जान का दुश्मन भी बना है| सेनेटाइजर पीने के कई मामले सामने आ चुके हैं| ऐसा ही एक मामला मुंबई (Mumbai) से सामने आया है| जहां बृहनमुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन के ज्वॉइंट म्युनिसिपल कमिश्नर रमेश पवार (Ramesh Pawar) ने आज गलती से पानी की जगह सैनिटाइजर पी लिया।

डिप्टी म्युनिसिपल कमिश्नर रमेश पवार ने बजट पेश करने से पहले पानी की जगह गलती से सैनिटाइजर पी लिया| इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है| हालांकि पवार ने सैनिटाइजर को गले से नीचे नहीं उतारा।

बुधवार को रमेश पवार नगर निकाय का शिक्षा बजट पेश कर रहे थे तभी उन्हें प्यास लगी और उन्होंने सामने रखे सैनिटाइजर के बॉटल को पानी समझकर पी लिया| पीते ही उन्हें समझ आ गया कि यह पानी नहीं है| उन्हें तुरंत अपनी गलती का एहसास हुआ और उन्होंने सैनिटाइजर बाहर उगल दिया| इससे पहले महाराष्ट्र में ही पोलियो टीकाकरण अभियान के दौरान बच्चों द्वारा सैनिटाइजर पीने का मामला भी सामने आ चुका है|