पुल पार करते नदी में बही दुल्हा-दुल्हन की कार, ग्रामीणों ने जान पर खेल कर बचाया

रांची।

देश के अधिकतर राज्यों में मानसून ने दस्तक दे दी है और बारिश का दौर शुरु हो गया है। कही नदी-नाले उफान पर है तो कही शुरुआती दिनों में ही बाढ़ जैसे हालात बनते नजर आ रहे है वही हादसे भी हो रहे है। रविवार को झारखंड के पलामू जिले में शादी से लौट रहे दूल्हा-दुल्हन की कार नीचे मलय नदी में जा गिरी। कार नदी के तेज धार में आधा किलोमीटर दूर तक बहते चली गयी। हालांकि इस दौरान ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत कर कार में सवार वर-वधू समेत छह बारातियों का रेस्क्यू कर सकुशल निकाल लिया।

जानकारी के अनुसार, लेस्लीगंज थाना क्षेत्र के गांव रजहारा के दिग्विजय सिंह की शादी खुशबू मनिका थाना के माईल मटलौंग के साथ सतबरवा के राधा कृष्ण मंदिर में हुई थी। शादी रचाकर अपनी दुल्हन के साथ दूल्हा दिग्विजय सिंह कार से लेस्लीगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत अपने गांव राजहरा लौट रहे थे। उस कार में दूल्हा-दुल्हन के साथ कुल छह लोग सवार थे। लौटते समय खामडीह-बोहिता मार्ग के बीच में पड़नेवाली मलय नदी पर बने झरीवा छलका पुलिया पार करते समय कार पानी के बहाव को सहन नहीं कर सकी औऱ बह गई। हालांकि इस दौरान ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत कर कार में सवार वर-वधू समेत छह बारातियों का रेस्क्यू कर सकुशल निकाल लिय।

बताया जा रहा है कि ग्रामीणों ने दुल्हा-दुल्हन को पुल पार करने को मना किया था बावजूद इसके उन्होंने जोखिम उठाया। हादसे के दौरान छलका पुलिया पर डेढ से दो फीट पानी उपर से बह रहा था। पानी का दवाब छलका पुलिया में टकराने के बाद और तेज गति से वेग बढ गया था और कार अनियंत्रित होकर बह गई।इसके बाद आधा किमी तक बह चुके कार को खामडीह और नावाटोली के ग्रामीणों ने पानी में छलांग लगाकर बचाया। साथ ही रस्सी समेत कई जुगाड़ लगाकर कार और दुल्हा –दुल्हन समेत छह बारातियों को बाहर निकालने में कामयाब रहे।

पुल पार करते नदी में बही दुल्हा-दुल्हन की कार, ग्रामीणों ने जान पर खेल कर बचाया पुल पार करते नदी में बही दुल्हा-दुल्हन की कार, ग्रामीणों ने जान पर खेल कर बचाया