Budget 2020 Highlights: बजट के बाद जानिए क्या होगा सस्ता और महंगा

नई दिल्ली।
केन्द्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने देश का आम बजट 2020-21 पेश कर दिया है।वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट में कई ऐसे ऐलान किये हैं जिसके बाद आम लोगों से जुड़ी चीजें मंहगी हो जाएंगी। इसके अलावा कुछ ऐसे भी ऐलान किया गए हैं जिससे आम जनता को राहत मिलेगी।वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को अपने दूसरे बजट भाषण में आयातित फुटवियर और फर्नीचर पर कस्‍टम ड्यूटी बढ़ाने का ऐलान किया है। इससे बाजार में फुटवियर और फर्नीचर की कीमतों में बढ़ोतरी होगी। नए दशक के अपने पहले बजट भाषण में सीतारमण ने चिकित्‍सा उपकरणों के आयात पर स्‍वास्‍थ्‍य उपकर लगाने की भी घोषणा की है। इससे देश में आयातित चिकित्‍सा उपकरण अब महंगे हो जाएंगे

बजट में फूड प्रोसेसिंग प्रोडक्ट्स पर कस्टम ड्यूटी बढ़ाने का भी एलान हुआ। इससे आयातित पैकेज्ड फूड के दाम बढ़ जाएंगे। इसके अलावा बजट में ऑटो पार्ट्स पर भी कस्टम ड्यूटी में इजाफा हुआ है। इससे देश में वाहन खरीदना महंगा हो जाएगा। बजट में प्लेटिनम पर भी कस्टम ड्यूटी बढ़ाई गई है।पोरसिलैन या चाइना सेरामिक, क्‍ले आयरन, स्‍टील, कॉपर से बने टेबलवेयर या किचनवेयर पर कस्‍टम ड्यूटी को मौजूदा 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 20 प्रतिशत कर दिया गया है। कैटालिटिक कन्‍वर्टर्स, कमर्शियल वाहनों के पार्ट्स, (इलेक्ट्रिक व्‍हीकल को छोड़कर) पर कस्‍टम ड्यूटी को बढ़ाया गया है।

वही सस्ते की बात करे तो शुद्ध किए गए टेरेफ्थेलिक एसिड (कपड़े और प्लास्टिक की बोतलें बनाने के लिए) पर एंटी-डंपिंग ड्यूटी समाप्त कर दी गई।प्‍यूरीफाइड टेरेपैथलिक एसिड (पीटीए) पर एंटी-डंपिंग ड्यूटी को खत्‍म कर दिया गया है। रॉ शुगर, एग्रो-एनीमल आधारित उत्‍पादों, टूना बैट, स्‍किम्‍ड मिल्‍क, कुछ एल्‍कोहलिक पेय पदार्थों, सोया फाइबर, सोया प्रोटीन पर से कस्‍टम ड्यूटी को खत्‍म कर दिया गया है।बजट के बाद होम लोन लेना भी सस्‍ता हो सकता है। बजट के बाद इलेक्ट्रिक कारें सस्‍ती हो सकती है।

आइये जानें आपकी रोजमर्रा के जीवन पर इससे क्या प्रभाव पड़ेगा।

ये हो सकता है महंगा
पेट्रोल-डीजल, सोना, काजू, ऑटो पार्ट्स, सिंथेटिक रबर, पीवीसी, टाइल्‍स भी महंगी हो जाएंगी। तंबाकू उत्‍पाद भी इस बजट के बाद महंगे हो सकते हैं। सोने के अलावा चांदी और चांदी के आभूषण के भी महंगे होने की संभावना है। ऑप्टिकल फाइबर, स्‍टेनलेस उत्‍पाद, एसी, लाउडस्‍पीकर, वीडियो रिकॉर्डर, सीसीटीवी कैमरा, वाहन के हॉर्न, सिगरेट आदि महंगे हो सकते हैं। ऑटोमोबाइल के लैम्‍प और बीम लाइट, घर्षण सामग्री, मोटर वाहनों में इस्‍तेमाल किए जाने वाले ताले महंगे हो सकते हैं।

ये हो सकता है सस्‍ता

बजट के बाद इलेक्ट्रिक कारें सस्‍ती हो सकती है। बजट के बाद होम लोन लेना भी सस्‍ता हो सकता है। साबुन, शैंपू, बालों का तेल, टूथपेस्‍ट, डेटरजेंट, बिजली का घरेलू सामान जैसे पंखे, लैम्‍प, सेनिटरी वेयर, ब्रीफ केस, यात्री बैग, बोतल, कंटेनर, रसोई में प्रयुक्‍त सामान जैसे बर्तन, चश्‍मों के फ्रेम, गद्दा, बिस्‍तर, बांस का फर्नीचर, सूखा नारियल, धूपबत्‍ती, नमकीन, पास्‍ता, मयोनेज, सैनिटरी नैपकिन भी सस्ता हो सकता है। इसके अलावा ऊन और ऊनी धागे, खाद्य वस्‍तुएं जैसे चॉकलेट, वैफर्स, कस्‍टर्ड पाउडर, संगीत के उपकरण, लाइटर, ग्‍लासवेयर, पॉट, कुकर, चूल्‍हा, गर्म रोल्‍ड कॉयल, प्रिंटर, मैग्‍नीशियम ऑक्‍साइट की परत वालं ठंडा रोल्‍ड इस्‍पात की कॉयल, ठंडा रोल्‍ड फूल हार्ड, कोबाल्‍ट धातु और कोबाल्‍ट धातु के अन्‍य मध्‍यवर्ती उत्‍पाद, ऊनी वस्‍त्र सस्‍ते हो सकते हैं।