भीषण सड़क हादसे में कई मजदूरों की मौत, 13 के शव बरामद, CM शिवराज-नरोत्तम ने जताया शोक

मुंबई, डेस्क रिपोर्ट। एक भीषण सड़क दुर्घटना (road accident) में 12 मजदूरों की मौत की खबर सामने आई है। लोहे की छड़ से भरे एक ट्रक (truck) के पलटने पर घटनास्थल पर ही 13 मजदूरों की मौत हो गई जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। जिन मजदूरों (laborers) की मौत हुई, उनमें 8 मजदूरों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि तीन को अस्पताल ले जाने के क्रम में जिंदगी की जंग हार गए। वही इलाज के दौरान भी दो मजदूरों की जान चली गई है। CM शिवराज, गृह मंत्री नरोत्तम ने शोक जताया है।

अधिकारियों के अनुसार महाराष्ट्र के बुलढाणा (Buldhana Road Accident) में शुक्रवार को लोहे की रॉड ले जा रहे एक ट्रक के पलट जाने से कम से कम 12 मजदूरों की मौत हो गई। कुछ मजदूरों को भी चोटें आईं, जिसके बाद उन्हें जालना के एक सरकारी अस्पताल ले जाया गया।

Read More: पुनर्जन्म का मामला, आठ साल पहले डूबकर मर चुका बेटा जब लौटा घर..

ट्रक चालक विपरीत दिशा से आ रही एक कार के साथ दुर्घटना से बचने की कोशिश कर रहा था। घटना दोपहर करीब 12 बजे सिंधखेड़ाजा-मेहकर रोड पर ताडेगांव फाटा में दुसरबीद गांव के पास उस समय हुई जब मजदूरों को नागपुर-मुंबई समृद्धि एक्सप्रेसवे परियोजना पर काम के लिए ले जाया जा रहा था.

अधिकारियों ने कहा कि राजमार्ग परियोजना के लिए स्टील का परिवहन करने वाले वाहन में कुल 16 मजदूर सवार थे। सूचना मिलते ही किंगगांव राजा थाने के कर्मी मौके पर पहुंचे और बचाव कार्य शुरू कर दिया। घायलों में से कुछ को जालना जिले के सरकारी अस्पताल में ले जाया गया, जबकि अन्य को सिंधखेड़ाजा अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें से ज्यादातर मजदूर बिहार और उत्तर प्रदेश के थे।