मनीष सिसोदिया के घर CBI का छापा, डिप्टी सीएम बोले- स्वागत है, कोर्ट में सच सामने आ जाएगा

दिल्ली के डिप्टी सीएम और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए है औऱ लिखा है सीबीआई आई है, उनका स्वागत है।

manish_sisodiya-

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश की राजधानी दिल्ली से बड़ी खबर मिल रही है।आज शुक्रवार सुबह सीबीआई की टीम ने दिल्ली में 20 जगह नई एक्साइज पॉलिसी की जांच के सिलसिले में छापेमार कार्रवाई की है। खास बात ये है कि दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के घर भी CBI टीम पहुंची है और जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों-अधिकारियों के लिए बड़ी खबर, ये होंगे चार्जशीट, राज्य सरकार ने जारी किया आदेश

सीबीआई की रेड के बाद दिल्ली के डिप्टी सीएम और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए है औऱ लिखा है सीबीआई आई है, उनका स्वागत है। हम कट्टर ईमानदार हैं, लाखों बच्चों का भविष्य बना रहे हैं। बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे देश में जो अच्छा काम करता है उसे इसी तरह परेशान किया जाता है, इसीलिए हमारा देश अभी तक नम्बर-1 नहीं बन पाया। हम सीबीआई का स्वागत करते हैं। जाँच में पूरा सहयोग देंगे ताकि सच जल्द सामने आ सके अभी तक मुझ पर कई केस किए लेकिन कुछ नहीं निकला। इसमें भी कुछ नहीं निकलेगा।

अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि देश में अच्छी शिक्षा के लिए मेरा काम रोका नहीं जा सकता। ये लोग दिल्ली की शिक्षा और स्वास्थ्य के शानदार काम से परेशान हैं,  इसीलिए दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री और शिक्षा मंत्री को पकड़ा है ताकि शिक्षा स्वास्थ्य के अच्छे काम रोके जा सकें। हम दोनों के ऊपर झूँठे आरोप हैं, कोर्ट में सच सामने आ जाएगा।

यह भी पढ़े.. MP News: लापरवाही पर एक्शन, 12 कर्मचारी निलंबित, 12 शिक्षकों का वेतन रोका, 2 की सेवा समाप्त

वही दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के शिक्षा और स्वास्थ्य मॉडल की पूरी दुनिया चर्चा कर रही है। इसे ये(केंद्र सरकार) रोकना चाहते हैं, इसलिए दिल्ली के स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्रियों पर छापेमारी और गिरफ्तारी की जा रही है। 75 सालों में जिसने भी अच्छे काम की कोशिश की, उसे रोका गया और भारत पीछे रह गया। हम दिल्ली के अच्छे कामों को रुकने नहीं देंगे। जिस दिन अमेरिका के सबसे बड़े अखबार एनवाईटी के फ्रंट पेज पर दिल्ली शिक्षा मॉडल की तारीफ और मनीष सिसोदिया की तस्वीर छपी, उसी दिन मनीष के घर केंद्र ने सीबीआई भेजी।