भारत

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देशभर में बढ़ते कोरोना संक्रमण (corona virus) के मामलों को लेकर अब केंद्र सरकार ने एक बार फिर गंभीर रूख अख्तियार किया है। कोरोना के बढ़ते केस के बाद केंद्र सरकार ने चार राज्यों में अपनी टीमें भेजी हैं। ये टीमें हरियाणा, राजस्थान, गुजरात और मणिपुर में कोरोना के खिलाफ अभियान की निगरानी करेगी। इसी के साथ कई और राज्यों में भी स्वास्थ्य विशेषज्ञों की टीमों भेजने पर विचार किया जा रहा है।

देश में कोविड-19 (covod-19) की तीसरी लहर के बाद अब केंद्र सरकार ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना वायरस टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने की बात भी कही है। इसके लिए दिल्ली एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया द्वारा टीमों का गठन किया गया है जो अलग-अलग राज्यों का दौरा करेंगी और वहां के हालात पर रिपोर्ट तैयार करेगी। जिन 4 राज्यों में केंद्र सरकार ने टीम भेजी है वहां ये टीमें कंटेनमेंट जोन में ठीक से नियमों का पालन कराने, टेस्टिंग, सर्विलांस, इंफेक्शन प्रिवेंशन और प्रभावी क्लिनिकल मैनेजमेंट में सहयोग करेगी। पिछले कुछ समय में उनमें दिल्ली, हरियाणा, गुजरात और मध्य प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। वहीं हरियाणा, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, मिजोरम जैसे राज्यों में एक बार फिर स्कूल बंद करा दिये गए हैं। देश की राजधानी दिल्ली में तो हालात इतने चिंताजनक हैं कि दिल्ली हाई कोर्ट ने केजरीवाल सरकार को फटकार तक लगाई है। वहीं अहमदाबाद में आज रात से लेकर सोमवार सुबह तक कर्फ्यू लगा दिया गया है।