छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार को जायेगें लखीमपुर खीरी, अब तक आठ की मौत

ब्यूरो रिपोर्ट। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और कांग्रेस के यूपी प्रभारी कल सुबह यानि सोमवार को लखीमपुर खीरी जाएँगे, और मृतकों के परिवार से मिलेगें। भूपेश बघेल को हाल ही में उत्तरप्रदेश कांग्रेस का वरिष्ठ पर्यवेक्षक बनाया गया है। गौरतलब है की  प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के जिले में पहुंचने के दौरान कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे के बीच तिकुनियां कस्बे में हिंसक टकराव हो गया। जिसमें अब तक कुल आठ लोगों की मौत हो चुकी है।

CBSE: खतरें में बच्चों का भविष्य, 10वीं-12वीं के लाखों छात्र परेशान, ये है कारण

किसानों का आरोप है कि विरोध प्रदर्शन के दौरान केंद्रीय मंत्री के बेटे ने उन पर कार चढ़ा दी। इससे कई किसान गंभीर रूप से घायल हो गए। इनमें से आठ की मौत हो गई। गुस्साए किसानों ने मंत्री के बेटे के काफिले में दो गाड़ियों में तोड़फोड़ करते हुए आग लगा दी। पिटाई से चालक की मौत हो गई। मंत्री के बेटे ने खेतों में भागकर अपनी जान बचाई। कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान पिछले एक सप्ताह से केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी का भी विरोध कर रहे हैं। उनका आरोप है कि केंद्रीय मंत्री ने आंदोलन को लेकर गलत टिप्पणी की थी। इसी वजह से किसान उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के कार्यक्रम का विरोध करने के लिए खीरी के पास के ही कस्बे तिकुनिया में हैलीपैड के पास इकट्ठे हुए थे। विरोध की आशंका को देखते हुए उप-मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से न आकर सड़क मार्ग से खीरी पहुंचे। उन्होंने दोपहर करीब 12 बजे विकास योजनाओं का शिलान्यास किया।