Raipur : तीजा-पोरा के अवसर पर सीएम भूपेश बघेल ने महिलाओं-बहनों को दिया ये बड़ा तोहफा

उन्होंने महिला स्व-सहायता समूहों का 12 करोड़ 77 लाख रुपए का कर्ज माफ कर दिया।

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तीजा-पोरा के अवसर पर समूह की महिला-बहनों को बड़ा तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री ने किसानों और मजदूरों के बाद अब महिलाओं के लिए न्याय की पहल करते हुए घोषणा पत्र का अपना एक और वादा पूरा कर दिया है। आपको बता दें, सीएम भूपेश बघेल ने सोमवार को अपने निवास में आयोजित तीजा पोरा तिहार कार्यक्रम में महिलाओं की क़र्ज़ माफ़ी का ऐलान किया है, ताकि वे फिर से ऋण लेकर नवीन आर्थिक गतिविधियां शुरू कर सकें। इसके साथ ही उन्होंने महिला समूहों को प्रति वर्ष दिए जाने वाले ऋण के बजट में भी पांच गुना वृद्धि की घोषणा की है। उन्होंने महिला स्व-सहायता समूहों का 12 करोड़ 77 लाख रुपए का कर्ज माफ कर दिया।

ये भी देखें- UP के पूर्व राज्यपाल कुर्रेशी पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज, योगी सरकार पर की अमर्यादित टिप्पणी

मुख्यमंत्री निवास में आज तीजा पोरा तिहार के लिए महिलाओं-बहनों के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का निवास मायका बनाया गया। मुख्यमंत्री के न्यौते पर पारंपरिक वेशभूषा में बड़ी संख्या में महिलाओं ने बड़े उत्साह के साथ आयोजन में हिस्सा लिया। इस दौरान कार्यक्रम में मौजूद राज्यसभा सांसद फूलोदेवी नेताम ने कहा कि छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में नई सरकार के आने के बाद महिला समूहों की आर्थिक गतिविधियों में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है। लाखों महिलाओं की आय में इसकी वजह से वृद्धि हुई है और महिलाओं के आर्थिक स्वावलंबन का रास्ता तैयार हुआ है। उन्होंने कहा विगत वर्षों में महिला समूहों द्वारा लिए गए ऋणों को न चुका पाने की वजह से लगभग एक लाख महिलाएं नया लोन पाने से अपात्र हो गई थीं। उन्होंने मुख्यमंत्री से निवेदन किया कि यदि पूर्व के ऋणों को माफ कर दिया जाए, तो उन्हें भी ऋण प्राप्त हो सकेगा और वे नए सिरे से आर्थिक गतिविधियां संचालित कर सकती हैं। उनके अनुरोध पर सीएम बघेल ने महिलाओं-बहनों को ये सौगात दी।

ये भी देखें- Bhopal News: खराब सड़कों को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन, सड़क के गड्ढों में चलाई कागज की नाव