कांग्रेस को एक और झटका, सांसद संजय सिंह का राज्यसभा सदस्यता और पार्टी से इस्तीफा

congress-rajya-sabha-mp-sanjay-singh-resigns-from-party

नई दिल्ली| लोकसभा चुनाव के बाद से ही कांग्रेस मुश्किल दौर से गुजर रही है, अब कांग्रेस को एक और झटका लगा है| कांग्रेस नेता और सांसद संजय सिंह ने अपनी राज्य सभा सदस्यता और पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। संजय सिंह अमेठी के कांग्रेस के बड़े नेता माने जाते हैं। अमेठी सीट आम तौर पर कांग्रेस का गढ़ रही है। वह गांधी परिवार के करीबी माने जाते हैं। माना जा रहा है कि वह भाजपा में शामिल हो सकते हैं। संजय सिंह पहले भी एक बार कांग्रेस का दामन छोड़ चुके हैं। 

इस बार आम चुनाव में संजय सिंह सुल्तानपुर से चुनाव लड़े थे, लेकिन उन्हें वहां से मेनका गांधी के सामने हार का सामना करना पड़ा था। संजय सिंह की पहली पत्नी गरिमा सिंह अमेठी से बीजेपी विधायक हैं। सिंह को कांग्रेस ने असम से राज्यसभा सांसद बनाया था।  1980 के दशक के दौरान वह दो बार उत्तर प्रदेश की विधानसभा के लिए चुने गए और राज्य मंत्री पद पर रहे। 1990 में, वह भारत की संसद के ऊपरी सदन के सदस्य बने, जिसे राज्य सभा के रूप में जाना जाता है, और 1998 में वह लोकसभा सांसद बने। इसके बाद, 2009 में, वह उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाली 15 वीं लोकसभा के सदस्य के रूप में उस सदन में दूसरा कार्यकाल प्राप्त करने में सफल रहे। 

संजय सिंह ने मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा- इस समय जो सबके बारे में सोचता है, सबका विश्‍वास पाने की कोशिश कर रहा है, मुझे लगता है वहीं सफल होगा. देश के सारे सपने नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍�� में ही पूरा होगा. उन्‍होंने कहा है कि जिस पार्टी में संवाद ही नहीं है, वहां क्‍यों रहें| उनके इस बयान के बाद बीजेपी में जाने के कयास लगाए जा रहे हैं|