आपस में भिड़े कांग्रेसी, जमकर चले लाठी-डंडे, 8 अरेस्ट, पूर्व MLA के बेटे समेत 25 पर मामला दर्ज

congress-workers-clashed-with-one-another-lok-sabha

नई दिल्ली।

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस की आपसी कलह कम होने का नाम नही ले रही है।आए दिन कांग्रेसियों के आपस में मारपीट के खबरे सामने आ रही है। ताजा मामला मुजफ्फरनगर के गांव टंडेढ़ा में बिजनौर से सामने आया है। यहां बिरयानी पार्टी खाने को लेकर कांग्रेसियों के दो पक्ष आपस में भीड़ गए। विवाद इतना बढ़ा कि दोनों ने एक दूसरे से लात-घूंसों के साथ लाठियों से पीटना शुरु कर दिया ।इसमें कई लोग घायल हो गए। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस पर मौके पर पहुंची आठ लोगों को हिरासत में ले लिया। वही पूर्व विधायक के बेटे समेत आठ के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।वही पूर्व विधायक समेत 25 लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया है। 

दरअसल, बिजनौर लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी नसीमुद्दीन सिद्दीकी की जनसभा के बाद एक बिरयानी पार्टी का आयोजन किया  था। इस दौरान बिरयानी को लेकर लोग आपस में झगड़ पड़े और देखते ही देखते बड़ा बवाल हो गया। दोनों तरफ से जम कर लाठी-डंडे चले और कई लोग घायल हो गए। इस बीच किसी ने पुलिस को भी सूचना दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस को हालात शांत कराने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। पुलिस ने आठ लोगों को हिरासत में ले लिया है। बिरयानी पार्टी के लिए किसी तरह की अनुमति नहीं ली गई थी, जिसके चलते मामले में देर रात चुनाव आचार संहिता का मुकदमा दर्ज कर लिया है।  पुलिस ने मुश्किल से हालात पर काबू पाया।

स्थानीय सूत्रों के मुताबिक बिरयानी कम पड़ रही थी और छीना झपटी हो रही थी। यही बात झगड़े का कारण बनी। जनसभा के बाद वोटरों को बिरयानी खिलाने की बात पर पुलिस ने 7-8 लोगों को हिरासत में लिया है और मामला दर्ज कर लिया है।देखने वाली बात यह है कि चुनाव आयोग के प्रतिबंध के बावजूद भी यहां वोटर्स को लुभाने के लिए खाने का भी प्रबंध किया गया था और सभा समाप्त होने के बाद भीड़ खाने की ओर दौड़ पड़ी। जिसमें बिरयानी खाने को लेकर पहले तो कार्यकर्ताओं में छीना झपटी हुई फिर धक्का-मुक्की और फिर मारपीट उसके बाद लाठी-डंडे चल पड़े। मगर इस बीच कोई भी बीच-बचाव करने वाला नहीं आया। यही नहीं हंगामा मारपीट के बाद कार्यक्रम में आए नेता भी अपने-अपने वाहन लेकर फरार हो गये। इस बवाल पर कोई कांग्रेस नेता बोलने को तैयार नहीं है।