कोरोना के नए स्ट्रेन से भारत में भी बढ़ा खतरा, अब तक 20 मरीज मिले, ब्रिटेन की उड़ानों पर 7 जनवरी तक रोक

विमानन मंत्री हरदीप पुरी ने जानकारी दी कि कोरोना वायरस के फैलते के नए स्ट्रेन की वजह से ब्रिटेन से आने वाले और जाने वाले विमानों पर रोक को नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने 7 जनवरी 2021 तक बढ़ा दिया है। इससे पहले नागर विमानन मंत्रालय ने पिछले हफ्ते घोषणा की थी कि वायरस के ज्यादा संक्रामक नए स्वरूप के सामने आने की वजह से ब्रिटेन एवं भारत के बीच विमानों की आवाजाही 23 दिसम्बर से 31 दिसम्बर तक स्थगित रहेगी

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट| ब्रिटेन (Britain) में नए स्‍ट्रेन (Corona New Strain) का खतरा अब भारत (India) में भी बढ़ गया है| देश में नए स्ट्रेन से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 20 हो गई है। इस बीच सरकार ने ब्रिटेन जाने-आने वाली उड़ानों पर रोक 7 जनवरी तक बढ़ा दी है। पहले 22 दिसंबर की आधी रात से 31 दिसंबर तक यह रोक लगाई गई थी।

विमानन मंत्री हरदीप पुरी ने जानकारी दी कि कोरोना वायरस के फैलते के नए स्ट्रेन की वजह से ब्रिटेन से आने वाले और जाने वाले विमानों पर रोक को नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने 7 जनवरी 2021 तक बढ़ा दिया है। इससे पहले नागर विमानन मंत्रालय ने पिछले हफ्ते घोषणा की थी कि वायरस के ज्यादा संक्रामक नए स्वरूप के सामने आने की वजह से ब्रिटेन एवं भारत के बीच विमानों की आवाजाही 23 दिसम्बर से 31 दिसम्बर तक स्थगित रहेगी। इसके अलावा सरकार ने सभी इंटरनेशनल कमर्शियल फ्लाइट्स पर लगा प्रतिबंध 31 जनवरी तक बढ़ा दिया है। ये आदेश विशेष फ्लाइट्स और कार्गो की उड़ानों पर नहीं लागू होगा।

कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के मामले बढ़ने के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने आगाह किया है और कहा है कि टेस्टिंग में कोई कोताही नहीं बरती जाए, क्योंकि हो सकता है कि ब्रिटेन से लौटे यात्री, जो कोरोना से संक्रमित हुए हैं नए वेरियंट की चपेट में आ चुके हों, इसलिए लक्षण दिखने पर उसे नजरअंदाज न करें|