Lockdown Return : फिर से लग सकता है लॉकडाउन, मुख्यमंत्री ने दी सख्त चेतावनी

मुख्यमंत्री

भुवनेश्वर, डेस्क रिपोर्ट। देश में कोरोना (India Coronavirus Update) का कहर जारी है। पिछले 24 घंटे में 24148 केस सामने आए है और 264 की मौत हो गई है। लगातार बढ़ते आंकड़ों को देखते अलग अलग राज्यों में सख्ती और लॉकडाउन की पाबंदियां बढॉई जा रही है। इसी बीच ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक (Odisha Chief Minister Naveen Patnaik) ने सख्त लॉकडाउन लगाने की चेतावनी जारी की है।वही अधिकारियों-कर्मचारियों को सख्ती के साथ कोरोना नियमों का पालन करवाने के निर्देश दिए है।

यह भी पढ़े.. MP Weather : मप्र के 19 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, बिजली गिरने के भी आसार

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा सभी को कोविड -19 दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करना होगा अन्यथा राज्य सरकार एक बार फिर से कोरोना को लेकर लॉकडाउन (Lockdown Return) के प्रतिबंध लगाने के लिए मजबूर हो जाएगी। केरल में रोजाना सामने आ रहे आंकड़े चिंताजनक हैं, इसलिए हमें  भी संभावित तीसरी लहर को देखते हुए सावधानी रखनी होगी और  खुद को बचाने के लिए कोविड के दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करना होगा।

मुख्यमंत्री पटनायक ने ने हेल्थ वर्करों में लगातार बढ़ रहे संक्रमण (Odisha Corona Case Update) पर भी चिंता जाहिर की है।वही समीक्षा बैठक में हाट, बाजार, धार्मिक संस्थानों और स्वास्थ्य संस्थानों पर प्रशासन को कड़ी नजर रखने का निर्देश जाी किए है। उन्होंने साफ कहा है कि बच्चों को अभी तक टीका नहीं लगाया गया है, इसलिए हमें उनके लिए सावधान रहना होगा।  लापरवाही की रिपोर्ट सामने आने पर शिक्षण संस्थान जिम्मेदार होंगे।उन्होंने चेतावनी देते हुए साफ कहा है कि लोग नहीं माने तो फिर से लॉकडाउन लगा दिया जाएगा।

यह भी पढ़े.. MP Corona Update: 9 दिन में 120 केस, आज फिर 5 नए पॉजिटिव, त्यौहारों को लेकर सख्ती

बता दे कि हाल ही में ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को कोविड-19 प्रबंधन करने में भारत के नंबर 1 सीएम के रूप में स्थान दिया गया था। इंडिया टुडे द्वारा अगस्त 2021 में किए गए मूड ऑफ द नेशन सर्वे के अनुसार कोरोना वायरस का प्रबंधन करने में सीएम पटनायक पहले, असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा दूसरे और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन तीसरे नंबर पर रहे थे, ऐसे में एक बार फिर पटनायक तीसरी लहर (Corona Third Wave) की आशंकाओं को देखते हुए सतर्क हो गए है।