DA : मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद केंद्र के बराबर हुआ राज्य कर्मचारियों का महंगाई भत्ता

जयपुर, डेस्क रिपोर्ट। गुरुवार का दिन राजस्थान के सरकारी अधिकारी-कर्मचारियों के लिए खुशियां लेकर आया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अधिकारी-कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को 3% बढ़ाने की घोषणा की। इसके बाद अब यह केंद्र सरकार के बराबर हो गया है।

DA : आधी-अधूरी खुशी, अब केन्द्र से 11% पिछड़े MP के अधिकारी-कर्मचारी

गुरुवार को केंद्र सरकार ने अपने अधिकारी-कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3% की बढ़ोतरी की। इस तरह महंगाई भत्ता कुल 31% हो गया। इस घोषणा के तुरंत बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी अपने अधिकारी-कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3% वृद्धि की घोषणा कर दी। इस तरह अब राजस्थान के अधिकारी- कर्मचारी भी केंद्र के समान 31% सदी महंगाई भत्ता पा सकेंगे। अशोक गहलोत ने ट्वीट करके लिखा कि “राज्य कार्मिकों को दिवाली के अवसर पर महंगाई भत्ते में 3% बढ़ोतरी और तदर्थ बोनस के रूप में दोहरी सौगात दी गई है।

केंद्र सरकार के कर्मचारियों के अनुरूप ही राज्य कर्मचारियों के महंगाई भत्ते और पेंशनर को देय महंगाई राहत की दर में 3% बढ़ोतरी को मंजूरी दी गई है।” गहलोत ने ट्वीट में आगे कहा कि “अब राज्य कर्मचारियों और पेंशनरों को 1 जुलाई 2021 से 31% महंगाई भत्ता एवं महंगाई राहत देय होगी।” राज्य अधिकारी-कर्मचारी संगठन ने गहलोत की घोषणा का स्वागत किया है और इसे दीपावली के पहले का बड़ा तोहफा बताया है।