दिल्ली अग्निकांड: फैक्ट्री मालिक रेहान गिरफ्तार, मुआवजे का ऐलान

नई दिल्ली| देश की राजधानी में रविवार को हुई दिल दहला देने वाली घटना के बाद बड़े सवाल खड़े होने लगे हैं आखिर कब तक इस तरह के हादसे होते रहेंगे| रानी झांसी रोड पर एक चार मंजिला फैक्ट्री में भीषण आग लगने से 43 श्रमिकों की मौत हो गई| दिल्ली पुलिस ने फैक्ट्री मालिक मोहम्मद रेहान को शाम को हिरासत में ले लिया है| 

रेहान के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है. फैक्ट्री के मालिक रेहान के खिलाफ आईपीसी की धारा 304 (गैरइरादन हत्या) का मामला दर्ज किया गया है. तड़के आग लगने के बाद फरार मोहम्मद रेहान को शाम को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. उससे पूछताछ की जा रही है| पुलिस ने फैक्ट्री मालिक के भाई को भी हिरासत में लिया है. साथ ही फैक्ट्री मालिक के कुछ रिश्तेदारों से भी पुलिस पूछताछ कर रही है|

लापरवाही उजागर 

इस अग्निकांड के पीछे लापरवाही उजागर हुई है| बताया जाता है कि इन निर्माण इकाइयों के पास दमकल विभाग का अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) नहीं था| आसपास दमकल के वाहनों के आवागमन के लिए पर्याप्त जगह नहीं थी जिससे बचाव अभियान में दिक्कत हुई. दमकल कर्मी खिड़कियां काटकर भवन में दाखिल हुए| 

मुआवजे का एलान 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मृतकों को परिजनों को 2-2 लाख रुपये साथ ही घायलों को 50-50 हजार मुआवजा देने का ऐलान किया है. वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घटना की मजिस्ट्रियल जांच का आदेश दिया है, साथ ही मृतकों को 10-10 लाख रुपये देने का ऐलान किया है|