Agra Travel के दौरान जरूर करें इस खूबसूरत जगह का दीदार, 114 सालों में हुआ इसका निर्माण

ताज नगरी आगरा लोगों के बीच सबसे ज्यादा ताजमहल को लेकर प्रसिद्ध है। लेकिन आज हम आपके यहां के ऐसे स्थान के बारे में बताते हैं जो ताजमहल की तरह ही खूबसूरत है।

Agra Travel

Agra Travel: आगरा भारत का एक बहुत ही खूबसूरत शहर हैं। जब भी इस जगह का नाम सामने आता है सबसे पहले आंखों के सामने ताजमहल की तस्वीर आ जाती है। ताजमहल की वजह से आगरा को ताजनगरी भी कहा जाता है और सबसे ज्यादा पर्यटक यहां घूमने पहुंचते हैं।

यमुना किनारे बसा हुआ ये शहर सिर्फ ताजमहल ही नहीं बल्कि आगरा के किले और फतेहपुर सीकरी जैसे स्थानों के लिए भी पहचाना जाता है। यहां के पर्यटक स्थलों का दीदार करने के लिए रोजाना हजारों लोग पहुंचते हैं। आज हम आपको आगरा की एक ऐसी खूबसूरत इमारत के बारे में बताते हैं, जिसकी सुंदरता के आगे ताजमहल भी फीका पड़ जाता है। इसे लोग स्वामी बाग समाध, राधा स्वामी मंदिर और दयालबाग मंदिर के नाम से जानते हैं।

ऐसा है राधा स्वामी मंदिर

  • इस मंदिर की खूबसूरती लोगों को काफी आकर्षित करती है। ये इतना भव्य और खास है कि इसे देखकर कोई भी इसका कायल हो सकता है।
  • इस मंदिर के निर्माण में सफेद पत्थरों का इस्तेमाल हुआ है। यही कारण है कि ताजमहल भी इसके आगे फीका होने की बात कही जाती है। इस मंदिर को नक्काशी भी देखने लायक है।
  • जानकारी के मुताबिक ये मंदिर 52 कुओं पर तैयार किया गया है। इसके प्रवेश द्वार पर खूबसूरत लाल पत्थर लगे हुए हैं।

ऐसा है इतिहास

इस मंदिर के इतिहास की बात करें तो बताया जाता है कि इसके निर्माण में 114 साल लग गए थे। 1904 में इसे बनाना शुरू किया गया था और यह निर्माण 2018 में पूरा हुआ। कुछ लोग तो यह भी कहते हैं कि इस मंदिर को बनाने में चार पीढ़ियों ने काम किया है। यह भी बताया जाता है कि इसे बनाने में 400 करोड रुपए से अधिक खर्च हुआ है। ये मंदिर शहर के दयालबाग एरिया में मौजूद है।

आकर्षक है स्वर्ण प्रतिमा

इस मंदिर की नक्काशी के साथ साथ इसकी स्वर्ण प्रतिमा भी लोगों को आकर्षित करती है। दरअसल इस मंदिर का जो गुंबद है वह सोने का बना हुआ है जिसे स्वर्ण प्रतिमा कहा जाता है। गुंबद के ऊपर बना हुआ यह कलश देखने में बहुत ही खूबसूरत है।

रहती है पर्यटकों की भीड़

अपने वास्तु कला और खूबसूरती के लिए यह मंदिर इस कदर प्रचलित है कि यहां पर पर्यटकों की काफी भीड़ देखने को मिलती है। राधा स्वामी मत के अनुयाई यहां काफी संख्या में पहुंचते हैं। बसंत पंचमी के दिन यहां खास आयोजन होता है और काफी भीड़ देखने को मिलती है।

कब करें दर्शन

अगर आप भी आगरा के इस मंदिर का दीदार करना चाहते हैं तो आप यहां कभी भी जा सकते हैं। यह मंदिर सुबह 6 बजे से शाम की 6 बजे तक खुला रहता है। अगली बार जब आप आगरा घूमने का प्लान बनाएं तो इस जगह को एक बार जरूर देखें।


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है।मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News