क्या आप जानते हैं पेड़ों में क्यों लगाया जाता है सफेद रंग

यह दिखने में काफी खूबसूरत दिखाई देता है| लेकिन यह सिर्फ पेड़ो को खूबसूरत दिखाने के लिए नहीं किया जाता| इसके इसके पीछे कई कारण होते है

अजब-गजब: अक्सर आपने देखा होगा जंगलों में सड़क किनारे या बाग़ बगीचे और नदी किनारे पेड़ो में नीचे सफ़ेद रंग पोता जाता है| यह दिखने में काफी खूबसूरत दिखाई देता है| लेकिन यह सिर्फ पेड़ो को खूबसूरत दिखाने के लिए नहीं किया जाता| इसके इसके पीछे कई कारण होते है| जिसके बारे में शायद ही आप जानते होंगे।

ऐसा इसलिए किया जाता है कि हरे-भरे पेड़ों को और ज्यादा मजबूती मिले। आपने देखा होगा कि पेड़ों में दरारें आ जाती हैं और उनकी छाल निकलने लगती है, जिसकी वजह से पेड़ कमजोर हो जाते हैं। इसीलिए उन्हें पेंट कर दिया जाता है, ताकि उनकी मजबूती बनी रहे और पेड़ों की उम्र लंबी हो।

पेड़ों के निचले हिस्से में पेंट करने का यह तरीका काफी पुराना है। पेंट करने के दौरान अगर पेड़ का कोई हिस्सा डैमेज दिखता है तो उसे भी हाईलाइट कर दिया जाता है, ताकि आगे उसका अधिक ख्याल रखा जा सके।

इसके अलावा पेड़ों पर रंग करने का मतलब है कि ये पेड़ सरकारी प्रौपर्टी हैं| यह वन विभाग द्वारा कराया जाता है| इसके साथ ही पेड़ पर सफ़ेद रंग लगाने का ये भी मतलब है कि सरकार के इजाजत के बिना आप पेड़ को नहीं काट सकते|

पेड़ों को रंग से पोतने से उनकी सुरक्षा में भी सुधार होता है। यह इस बात का संकेत होता है कि वो पेड़ वन विभाग की नजर में हैं| बिना अनुमति इनको काटा नहीं जा सकता| कुछ जगहों पर पेड़ों को रंगने के लिए केवल सफेद पेंट का इस्तेमाल किया जाता है, कई जगहों पर लाल और सफ़ेद रंगों का भी उपयोग किया जाता है।