उत्तर प्रदेश के भदोही में आग लगने से हुआ भीषण हादसा, अब तक 5 लोगों की हुई मौत

उत्तर प्रदेश के भदोही से एक बड़ी दुखद घटना सामने आई है। दरअसल, यहां रविवार की शाम एक दुर्गा पंडाल में शार्ट सर्किट होने से आग लग गई। जिसमें घायल हुए लोगों में से अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है

लखनऊ, डेस्क रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश के भदोही से एक बड़ी दुखद घटना सामने आई है। दरअसल, यहां रविवार की शाम एक दुर्गा पंडाल में शार्ट सर्किट होने से आग लग गई। जिसमें घायल हुए लोगों में से अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 47 लोगों की हालत गंभीर है, जिन्हें इलाज के लिए बनारस के बीएचयू अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बता दें कि घटना के वक्त पंडाल में करीब 150 से ज्यादा लोग मौजूद थे। घटना होने के करीब आधे घंटे बाद फायर ब्रिगेड की टीम घटनास्थल पर पहुंची और करीब 2 घंटे के कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। मरने वालों में 2 महिलाएं और 3 बच्चे भी शामिल है। फिलहाल, सभी घायलों का इलाज जारी है लेकिन उनमें से सभी की हालत गंभीर बनी हुई है।

यह भी पढ़ें – शिक्षकों ने मातमी संगीत पर बच्चों से करवाया गरबा, मामला सामने आते ही 4 सस्पेंड

वहीं, एक महिला ने बताया कि, ‘पंडाल में बहुत तेजी से आग फैली थी। आग की लपटें ऊपर तक जा रही थीं। लोग खुद ही बचाव के लिए आ गए। पानी डालने लगे। किसी तरह लोगों को बचाया गया।’ जबकि एक और प्रत्यक्षदर्शी का कहना है कि, “शंकर और काली मां की लीला का मंचन हो रहा था। आरती का समय हो चला था। इसलिए पंडाल में 150 से 200 लोग मौजूद थे लेकिन तभी अचानक आग लग गई। आग देखकर हम लोग दौड़कर पहुंचे। पर्दा खींचकर फाड़ दिए, ताकि लोग बाहर भाग सकें।”

यह भी पढ़ें – जबलपुर : प्रदेश की सबसे बड़ी आर्मी कैन्टीन में चोरी का खुलासा, 7 चोर गिरफ्तार, लाखों का समान बरामद

बता दें कि पंडाल में आगजनी की घटना के दौरान रंगमंच का आयोजन हुआ था। जहां भगवान शंकर और काली मां नाटक किया जा रहा था जैसे ही आग लगी पंडाल में चारों तरफ अफरा-तफरी मच गई इसके साथ ही आसपास के इलाकों में भी अफरा-तफरी मच गई। लोग अपनी जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे घटना के बाद आसपास के स्थानीय लोगों ने किसी भी तरह कुछ लोगों को बाहर निकाला। वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पंडाल बनाने से पहले इसकी अनुमति ली गई थी लेकिन पंडाल में अग्निशमन की कोई व्यवस्था नहीं थी।

यह भी पढ़ें – लापरवाही पर बड़ी कार्रवाई, 5 तत्काल प्रभाव से निलंबित, 150 कर्मचारियों के वेतन काटे

दमकल विभाग के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि, “पंडाल को गुफा जैसा बनाया गया था। गुफा को बर्फीला-पथरीला और ऊबड़-खाबड़ दिखाने के लिए उसमें सिल्वर फॉयल जैसी पन्नी लगाई गई थी। घटना के वक्त पंडाल में बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। इसी दौरान एक वायर में स्पार्किंग हुई और आग लग गई। पंडाल में सिल्वर फॉयल लगे होने की वजह आग ने कुछ ही सेकेंड में सबकुछ अपने जद में ले लिया।”

यह भी पढ़ें – Rashifal 03 October 2022 : मिथुन सिंह वृश्चिक के लिए दिन उत्तम, नौकरी-प्रतिष्ठा में वृद्धि, तुला मीन रखें विशेष ध्यान, जानें 12 राशि का भविष्यफल