शिक्षा अधिकारी 50 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, सेवानिवृत्त शिक्षक से एरियर भुगतान के लिए मांगे थे पैसे

UP Bribe News: उत्तर प्रदेश के औरेया जिले में विजिलेंस टीम ने बेसिक शिक्षा अधिकारी विपिन कुमार तिवारी को 50 हजार रुपये की रिश्‍वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि बीएसए ने सेवानिवृत्त शिक्षक से एरियर भुगतान के लिए रिश्वत की मांग की थी। जब बीएसए तिवारी अपने कार्यालय पर ही बैठे थे, तभी एंटी करप्‍शन की टीम वहां पहुंची और उन्‍हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

औरेया जनपद के महर्षि दयानंद सरस्वती इंटर कॉलेज के शिक्षक रामचरण राजपूत 2020 में रिटायर्ड हो गए थे और उनका 2012 से 2018 तक का करीब 50 लाख का एरियर बकाया था, जिसके लिए वे मदद के लिए बीएसए कार्यालय पहुंचे थे,यहां बीएसए विपिन कुमार तिवारी ने उनसे काम करवाने के लिए एरियर की रकम के 10 प्रतिशत यानि 2 लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी।

पैसा किस्तों में देने को लेकर सौदा तय किया और शुक्रवार को शाम छह बजे शिक्षक को दफ्तर बुलाया। इसी बीच इसकी सूचना रिटायर्ड शिक्षक ने एंटी करप्शन टीम को दी, इसके बाद बीएसए को रंगे हाथ गिरफ्तार करने कानपुर से विजिलेंस की टीम ने बीएसए कार्यालय पहुंची और 50 हजार की रिश्वत लेते हुए उसे रंगेहाथों पकड़ लिया।

फरवरी में होना है शादी

बता दे कि विपिन कुमार ने जून 2022 में राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद से स्थानांतरित होकर औरैया बीएसए का चार्ज संभाला था।फरवरी में उनकी शादी फरवरी होनी है। वे पहले परिषदीय शिक्षक थे, इसके बाद ब्लॉक सैफउ हाथरस में बीईओ रहे, फिर आयोग से परीक्षा पास करके औरैया में पहली बार बीएसए बने। करीब छह माह पूर्व ही तिवारी ने यहां ज्वाइन किया था, उनकी इस तरह गिरफ्तारी पूरे जिले में चर्चा का विषय बनी हुई है।