रिटायरमेंट के बाद हर महीने मिलेगी 2 लाख पेंशन, ये है नियम-पात्रता, जानें पूरी स्कीम

NPS पेंशन योजना के तहत 40 सालों तक हर महीने 5000 रु जमा करने पर 1.91 करोड़ रु मिलते है. इसके बाद maturity अमाउंट के निवेश पर 2 लाख मासिक पेंशन मिलेगी।

pensioners pension

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट।अगर आप सरकारी या निजी कर्मचारी है औ रिटायरमेंट के बाद भविष्य को लेकर चिंतित है तो यह खबर आपके काम की है। नेशनल पेंशन सिस्टम ((Nation pension System NPS Calculator) आपके रिटायरमेंट के बाद के लिए एक बेहतर ऑप्‍शन साबित हो सकता है।इसके तहत आप सिर्फ 5000 रुपये हर महीने निवेश करके  रिटायरमेंट के बाद 2 लाख रुपये प्रतिमाह तक पेंशन पा सकते है।

य़ह भी पढ़े.. CBSE 10th Result 2022: 10वीं के छात्रों के लिए नई अपडेट, आज रिजल्ट जारी होने की संभावना, ऐसे करें डाउनलोड

दरअसल, नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) एक सरकारी पेंशन योजना है, जिसमें इक्विटी और डेब्ट इंस्ट्रूमेंट दोनों में शामिल है।इसके तहत इनकम टैक्स के सेक्शन 80C के तहत आप अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक टैक्स बचा सकते हैं।इसमें इन्वेस्टर को परिपक्वता (maturity) पर आयकर छूट और पूरी पेंशन निकासी राशि दी जाती है। कोई भी इन्वेस्टर maturity अमाउंट का सही इस्तेमाल कर अपनी मासिक पेंशन राशि को ज्यादा बढ़ा भी सकता है। वही आप NPS में निवेश करते हैं तो आपको 50,000 रुपये तक का अतिरिक्त टैक्स छूट मिलेगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, NPS पेंशन योजना के तहत 40 सालों तक हर महीने 5000 रु जमा करने पर 1.91 करोड़ रु मिलते है. इसके बाद maturity अमाउंट के निवेश पर 2 लाख मासिक पेंशन मिलेगी। इसमें व्यवस्थित निकासी योजना (Systematic Withdrawal Plan SWP) से 1.43 लाख रु और 63,768 रु मासिक रिटर्न मिलेगा। इसमें इन्वेस्टर को जीवित रहने पर वार्षिकी से 63,768 रु मासिक मिलती रहेगी।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए खुशखबरी! फिर बढ़ेगी 45000 से 2.10 लाख तक सैलरी, एरियर पर भी जल्द मिलेगी राहत

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, आप इस योजना के तहत यदि आप 20 साल से लेकर सेवानिवृति तक हर महीने 5000 रु निवेश करते है तो 1.91 करोड़ से 1.27 करोड़ की एक मुश्त maturity अमाउंट मिलेगा। इस पद 6% रिटर्न से 1.27 करोड़ रु पर इन्वेस्टर को हर महीने 63,768 रु मासिक पेंशन ले सकता है।

NPS योजना के तहत निवेशक को इक्विटी के साथ कर्ज की भी सुविधा मिलती है। इसके तहत इक्विटी में 60 फीसदी और डेट में 40 फीसदी एक्सपोजर मिलता है। वही 12 फीसदी के लॉन्ग टर्म इक्विटी रिटर्न और 8 फीसदी के लॉन्ग टर्म डेट रिटर्न को मानकर लॉन्ग टर्म में एनपीएस के 10 फीसदी के रिटर्न की उम्मीद कर सकते हैं। हालांकि ज्यादा पेंशन के लिए एनपीएस में जल्द निवेश करना चाहिए।