कर्मचारियों-खाताधारकों के लिए ताजा अपडेट, मिलेगा ज्यादा पेंशन का लाभ, मई तक कर सकते है आवेदन, जानें नियम और पूरी प्रक्रिया

EPFO द्वारा ज्यादा पेंशन ऑप्शन के लिए जारी की गई गाइडलाइंस के मुताबिक, इसमें 31 अगस्त 2014 तक रिटायर हो चुके पेंशनर्स (Pensioners) को इसका लाभ नहीं दिया जाएगा, जबकि 1 सितंबर 2014 या उसके बाद ईपीएस से जुड़े लोगों को अधिक पेंशन पाने का विकल्प दिया जाएगा, वही नई गाइलाइन के तहत जो भी कर्मचारी अधिक पेंशन (Pension) पाने के योग्य हैं और वह इसका लाभ पाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे कर सकते हैं।

EPFO Higher Pension Update : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees’ Provident Fund Organization) के कर्मचारियों-खाताधारकों के लिए महत्वपूर्ण खबर है। EPFO ने ज्यादा पेंशन लेने (Higher Pension) की आवेदन की अंतिम तिथि में संशोधन करते हुए इस आगे बढ़ा दिया है, अब कर्मचारी 3 मई 2023 तक आवेदन का लाभ ले सकते है। पहले यह अंतिम तारीख 3 मार्च 2023 रखी गई थी। इसके तहत जो कर्मचारी सितंबर 2014 से पहले रिटायर हुए हैं, उन्हें पेंशन का लाभ मिलेगा।

3 मई तक उठा सकते है लाभ

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने चार नवंबर 2022 को अपने आदेश में कहा था कि सभी पात्र सदस्यों के पास ये विकल्प चुनने के लिए चार महीने का समय है और इसकी अंतिम तारीख 3 मार्च 2023 रखी गई थी, लेकिन कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने सोमवार को अंतिम तिथि में संशोधन किया। हायर पेंशन स्कीम की डेडलाइन को तीन महीने के लिए बढ़ा दिया गया है। इसके तहत पात्र सदस्य अब 3 मई 2023 कर इसके लिए सेवानिवृत्ति कोष संगठन के एकीकृत सदस्य पोर्टल पर आवेदन कर सकेंगे।इसके अलावा EPFO के एकीकृत सदस्य पोर्टल पर हाल में सक्रिय किए गए URL Link से भी साफ है कि ज्यादा पेंशन का विकल्प चुनने की अंतिम तिथि तीन मई हो गई है।

ऑनलाइन कर सकते है आवेदन

EPFO द्वारा ज्यादा पेंशन ऑप्शन के लिए जारी की गई गाइडलाइंस के मुताबिक, इसमें 31 अगस्त 2014 तक रिटायर हो चुके पेंशनर्स (Pensioners) को इसका लाभ नहीं दिया जाएगा, जबकि 1 सितंबर 2014 या उसके बाद ईपीएस से जुड़े लोगों को अधिक पेंशन पाने का विकल्प दिया जाएगा, वही नई गाइलाइन के तहत जो भी कर्मचारी अधिक पेंशन (Pension) पाने के योग्य हैं और वह इसका लाभ पाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे कर सकते हैं। कर्मचारी पेंशन योजना (EPS) के तहत उच्च पेंशन ऑप्शन चुनने की प्रक्रिया ईपीएफओ द्वारा पिछले सप्ताह ही जारी की गई थी।

कौन होंगे पात्र

  1. जिन कर्मचारियों के आवेदन पहले अस्वीकार कर दिए गए थे, उनके लिए आवेदन पत्र पोर्टल लिंक के माध्यम से उपलब्ध है। जो लोग 1 सितंबर 2014 से पहले सेवानिवृत्त हुए हैं, वे पेंशन के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  2. कर्मचारी 31 अगस्त, 2014 को ईपीएस के मेंबर थे और जिन्होंने ईपीएस के तहत ज्यादा पेंशन का विकल्प नहीं चुना, उनके लिए तीन मार्च से पहले यह विकल्प चुनने का समय है।
  3. जिन कर्मचारियों ने अपनी नौकरी के समय कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) योजना के तहत उच्च वेतन में योगदान दिया है और रिटायरमेंट (Retirement) से पहले उच्च पेंशन ऑप्शन (Higher Pension Option) चुना था उन्हें यह लाभ दिया जाएगा।
  4. इसके तहत लाभ पाने वालों में केवल वे कर्मचारी योग्य माने जाएंगे, जिन्होंने 5000 रुपये या 6500 रुपये की सैलरी लिमिट से अधिक पर पेंशन पाने के लिए EPS में योगदान दिया था।
  5. ऐसे कर्मचारियों के लिए भी है, जिन्होंने EPS 95 का मेंबर रहते हुए उच्च पेंशन का ऑप्शन चुना था, लेकिन EPFO की ओर से उनके एक आवेदन को अस्वीकार कर दिया गया था।

इस तरह मिलेगा लाभ

  1. ईपीएफओ ने कहा कि एक फैसिलिटी दी जाएगी, जिसके लिए जल्द ही यूआरएल (यूनिक रिसोर्स लोकेशन) बताया जाएगा।
  2. इसके मिलने के बाद क्षेत्रीय पीएफ आयुक्त व्यापक सार्वजनिक सूचना के लिए नोटिस बोर्ड और बैनर के जरिए जानकारी देंगे।
  3. प्रत्येक आवेदन को पंजीकृत किया जाएगा, डिजिटल रूप से लॉग इन किया जाएगा और आवेदक को रसीद संख्या दी जाएगी।
  4. संबंधित क्षेत्रीय भविष्य निधि कार्यालय के प्रभारी अधिकारी उच्च वेतन पर संयुक्त विकल्प के प्रत्येक मामले की जांच करेंगे।
  5. इसके बाद आवेदक को ई-मेल/डाक के जरिए और बाद में SMS के जरिए फैसले की जानकारी दी जाएगी। ये निर्देश सुप्रीम कोर्ट के नवंबर 2022 के आदेश के अनुपालन में जारी किए जा रहे हैं।

जानें आवेदन करने की प्रक्रिया

  • ज्यादा पेंशन पाने के लिए ईपीएस मेंबर को अपने करीबी EPFO ऑफिस जाना होगा।
  • वहां उन्हें एप्लिकेशन के साथ कुछ डॉक्यूमेंट्स भी जमा कराने होंगे।
  • कमिश्नर के बताए तरीके और फॉर्मेट के मुताबिक एप्लिकेशन देनी होगी।
  • जॉइंट ऑप्शन में डिस्क्लेमर और डिक्लरेशन भी होगा।
  • आवेदन जमा होने के बाद इससे सर्कुलर के मुताबिक निपटा जाएगा।