राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को लेकर फिल्म डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा ने किया विवादित ट्वीट

डेस्क रिपोर्ट। अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा चर्चा में रहने वाले फिल्म डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा इस बार अपने एक ट्वीट को लेकर कानूनी पचड़ों में फंस गए हैं। वर्मा ने एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू पर एक विवादास्पद ट्वीट किया। उन्होंने लिखा है कि “अगर द्रौपदी राष्ट्रपति हैं तो पांडव कौन हैं? और उससे भी ज्यादा जरुरी ये है कि कौरव कौन हैं, इस ट्वीट के सामने आने के बाद अब भाजपा के नेताओं गुडूर रेड्डी और टी. नंदेश्वर गौड़ ने, हैदराबाद के एबिड्स पुलिस स्टेशन में राम गोपाल वर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है। हालांकि विवाद होने के बाद रामगोपाल वर्मा ने सफाई पेश करते हुए कहा कि ‘यह सिर्फ एक गंभीर विडंबना में कहा गया था और इसका कोई अन्य इरादा नहीं था, महाभारत में द्रौपदी मेरा पसंदीदा पात्र है, लेकिन क्योंकि ये नाम इतना दुर्लभ है, इसलिए मुझे इससे जुड़े अन्य पात्र याद आ गए। मेरा मकसद किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का बिल्कुल नहीं है।

राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को लेकर फिल्म डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा ने किया विवादित ट्वीट

यह भी पढ़ें… राज्य में पुरानी पेंशन योजना लागू करने की तैयारी, रविवार को CM का बड़ा ऐलान संभव, इस तरह मिलेगा लाभ!

इस ट्वीट के बाद माना जा रहा है कि डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा पर एस.सी, एस.टी एक्ट के अंतर्गत हो कार्रवाई सकती है, एबिड्स पुलिस के अनुसार हमें शिकायत मिली है और इसे कानूनी सलाह के लिए भेज दिया गया है, कानूनी सलाह मिलने के बाद, हम रामगोपाल वर्मा पर एस.सी./एस.टी एक्ट के अंतर्गत शिकायत दर्ज करेंगे।

रामगोपाल वर्मा ने ट्वीट में पूछा कि ‘अगर द्रौपदी राष्ट्रपति हैं, तो पांडव कौन हैं, और इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि कौरव कौन हैं?’ वहीं बीजेपी नेता गुडूर नारायण रेड्डी ने इसको लेकर शिकायत दर्ज करवाते हुए कहा कि यह ट्वीट एससी-एसटी लोगों का अपमान करने के समान है, हमने पुलिस से कड़ी कार्रवाई करने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा, अगर उन्होंने सिर्फ द्रौपदी, पांडवों और कौरवों का जिक्र किया होता, तो हमें कोई आपत्ति नहीं होती। लेकिन बीजेपी कार्यकर्ता होने के नाते हम राम गोपाल वर्मा की ऐसी टिप्पणियों से आहत हैं, क्योंकि द्रौपदी मुर्मू एनडीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार हैं।