टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा पर भोपाल में एफआईआर दर्ज, सीएम शिवराज ने कहा – देवी-देवताओं का अपमान बर्दाश्त नहीं

महुआ मोइत्रा ने पलटवार करते हुए कहा कि वह गुंडों और पुलिस से डरने वाली नहीं है और वह काली की उपासक।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मां काली पर विवादित बयान देने वाली तृणमूल कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। देश भर में उनके खिलाफ प्रदर्शन होने के बाद अब मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हुंकार भरते हुए कहा कि हिन्दू देवी-देवताओं का अपमान किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इस बीच महुआ मोइत्रा ने पलटवार करते हुए कहा कि वह गुंडों और पुलिस से डरने वाली नहीं है और वह काली की उपासक हैं।

ये भी पढ़े … पति ने सपने में किसी और महिला को देखा तो पत्नी ने सोते हुए डाला खौलता हुआ पानी

इससे पहले महुआ मोइत्रा को लेकर दिल्ली से कोलकाता तक दिनभर हंगामा रहा, जहां उनके इस बयान से नाराज लोगों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान उनकी अपनी ही पार्टी तृणमूल ने उनसे पल्ला झाड़ लिया है, जहां पार्टी की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि इस बयान से पार्टी का कोई लेना-देना नहीं है। बीजेपी ने टीएमसी से इस मामले में महुआ मोइत्रा को निलंबित करने की मांग की है। बीजेपी ने कहा कि टीएमसी भी महुआ मोइत्रा पर ऐसा एक्शन ले, जैसा उन्होंने नूपुर शर्मा पर लिया है।

बंगाल में विपक्ष दल के नेता शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि अगर महुआ का बयान गलत है, तो नूपुर शर्मा की तरह उनके खिलाफ भी ममता बनर्जी लुकआउट नोटिस क्यों नहीं जारी करवा रही हैं?