-Former-Chief-Minister-Shivraj-Singh

नई दिल्‍ली। भारतीय जनता पार्टी ने अपने तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों को राष्टीय उपाध्यक्ष पद पर नियुक्त किया है|  इनमें मध्‍यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज‍ सिंह चौहान, छत्‍तीसगढ़ के पूर्व सीएम रमन सिंह और राजस्‍थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे शामिल हैं।  तीन राज्यों के हाथ से जाने के बाद से ही तीनों पूर्व मुख्यमंत्रियों के केंद्र में जाने के कयास लगाए जा रहे हैं| वहीं आगे इन नेताओं की क्या भूमिका होगी इसको अलग अलग तरह की चर्चाएं जारी है| इस बीच पार्टी हाई कमान ने तीनों नेताओं को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नियुक्त किया है| 

मप्र, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भाजपा की चुनावी हार के बाद पार्टी ने इन तीनों को उनके राज्यों में नेता प्रतिपक्ष नहीं बनाया था। तभी से चर्चा थी कि तीनों नेताओं को पार्टी केंद्र में जिम्मेदारी दे सकती है। इस बीच गुरूवार को बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव ने ट्वीट के जरिए जानकारी देते हुए बताया कि शिवराज सिंह चौहान, रमन सिंह और वसुंधरा राजे सिंधिया को पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नियुक्त किया है|  लोकसभा चुनाव से करीब 2-3 महीने पहले बीजेपी ने इन तीनों बड़े नेताओं को केंद्र में लाने का फैसला लेते हुए पार्टी का उपाध्यक्ष नियुक्त कर दिया है| हालाँकि देखना होगा कि यह नेता केंद्र में या राज्यों में सक्रिय रहेंगे|  बता दें की 11 जनवरी को पार्टी का राष्ट्रीय अधिवेशन होने वाला है और सभी प्रदेश के आला नेता दिल्ली पहुंच रहे हैं। 

इससे पहले मध्य प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद को नेता प्रतिपक्ष की दौड़ से बाहर बताया था| जबकि मजबूती से उनका चर्चा में था| लेकिन दिल्ली दौरे के बाद उन्होंने इस दौड़ से खुद को बहार बताते हुए वरिष्ठ विधायक गोपाल भार्गव का नाम विधायक दल की बैठक में आगे किया और बीजेपी ने नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी उन्हें सौंप दी| वहीं सीएम पद से इस्तीफ़ा देने के बाद केंद्र में जाने की चर्चा पर उन्होंने कहा था कि वो मरते दम तक प्रदेश की सेवा करेंगे, दिल्ली नहीं जाएंगे|