पूर्व विधायक का भाजपा से इस्तीफा, पार्टी में हड़कंप

नई दिल्ली।

इन दिनों भाजपा को एक के बाद एक झटके लग रहे है। अभी महाराष्ट्र की गुत्थी सुलझी भी नही थी कि अब झारखंड विधानसभा चुनाव से पहले जमुआ के पूर्व विधायक सुकर रविदास ने भाजपा से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपना इस्तीफा भाजपा जिलाध्यक्ष को भेज दिया है। 

पूर्व विधायक सुकर ने बताया कि अपनी बेटी डॉ. मंजू कुमारी के लिए उन्होंने भाजपा से नाता तोड़ा है। मंजू कुमारी को कांग्रेस ने जमुआ विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी बनाया है। वे अपनी बेटी के लिए चुनाव प्रचार करना चाहते हैं। हालांकि अपने इस्तीफे में उन्होंने लिखा है कि उनकी उम्र अधिक हो चुकी है, साथ ही परिवार की भी स्थिति ठीक नहीं है। इस कारण वे भाजपा से इस्तीफा दे रहे हैं। सुकर रविदास 1970 में जनसंघ से जुड़े थे। 1977 में पहली बार वे जनता पार्टी के टिकट पर जमुआ विधानसभा क्षेत्र से चुनाव जीते थे। वे लंबे समय तक भाजपा से जुड़े रहे थे।

पूर्व विधायक ने कहा कि उन्होंने 50 वर्षों तक भाजपा में रहकर सेवा करने का काम किया है। 1977 और 1995 में जमुआ विधानसभा क्षेत्र से दो बार विधायक बने। सामने विधानसभा चुनाव है। जिसमें पार्टी का काम करना आवश्यक हो जाता है। पर उनकी बेटी मंजू कुमारी कांग्रेस की टिकट पर जमुआ विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रही है। बेटा-बेटी की मदद करना हर पिता का कर्तव्य होता है। इसलिए वे पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं। उन्होंने अपना इस्तीफा भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा एवं जिला अध्यक्ष सुनील अग्रवाल को भेज दिया है। बेटी मंजू कुमारी बोली – पापा को धन्यवाद, उन्होंने मेरे लिए पार्टी छोड़ दी। इसके लिए पापा को धन्यवाद करती है।