राजस्थान में जातिगत भेदभाव का शिकार हुई छात्राएं, पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

राजस्थान में स्कूली छात्राओं के साथ भेदभाव होने का मामला सामने आया है।

उदयपुर, डेस्क रिपोर्ट। राजस्थान (Rajasthan) के उदयपुर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां पर दलित छात्राओं के साथ जातिगत भेदभाव किया गया है। जानकारी के मुताबिक स्कूल में पदस्थ रसोइए ने खाना परोसने के लिए पहुंची दो दलित छात्राओं के साथ गलत व्यवहार किया है। इस बात की सूचना पुलिस को मिली तो उन्होंने रसोइए को गिरफ्तार कर लिया।

मामले में छात्राओं के परिवार ने पुलिस में अनुसूचित जाति जनजाति संरक्षण अधिनियम के अंतर्गत केस दर्ज करवाया है। मामले की जांच की जा रही है। घटना उदयपुर के गोगुंदा गांव की है जहां पर भरोड़ी के राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल में पढ़ने जाने वाली दो छात्राओं के साथ रसोइए लाला राम गुर्जर के द्वारा दुर्व्यवहार किया गया। स्कूल में रोजाना दो छात्राओं को मिड डे मील परोसने की जिम्मेदारी दी गई है। शुक्रवार को यह जिम्मेदारी इन दोनों छात्राओं को मिली थी। ये दोनों ही छात्राएं दलित समुदाय से हैं। जब छात्राएं परोसने के लिए खाना लेने पहुंची तो रसोइए ने इनसे जाति पूछी और इनका हाथ लगाया हुआ खाना फिंकवा दिया। छात्राओं को रसोइए की यह बात पसंद नहीं आई और उन्हें इसका विरोध किया लेकिन किसी ने उनकी कोई बात नहीं सुनी।

Must Read- मनी लॉन्ड्रिंग मामले में Nora Fatehi से 4 घंटे हुई पूछताछ, एक्ट्रेस ने खोले कई राज

स्कूल की छुट्टी के बाद दोनों छात्राएं घर पर पहुंचे और उन्होंने अपने परिजनों को इस पूरे मामले की जानकारी दी। मामला पता लगते ही मोहल्ले के लोगों में आक्रोश देखा गया। सभी ग्रामीण मिलकर स्कूल के हेड मास्टर के पास पहुंचे और पुलिस को भी सूचना दी। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने तुरंत ही रसोइए को गिरफ्तार कर लिया।