उम्मीदवारों के लिए अच्छी खबर, 22000 पदों पर होगी भर्ती, मांगी गई रिक्त पदों की जानकारी, मिलेगा लाभ

UP Employees Recruitment : राज्य सरकार द्वारा मजदूरों को बड़ा लाभ दिया जाएगा। दरअसल 22000 आउटसोर्सिंग कर्मचारियों की भर्ती की जाएगी। अगले महीने तक इस भर्ती प्रक्रिया को पूरा किया जाना है 15 दिनों के अंदर सभी स्कूलों से खाली पदों के ब्यौरे की मांग की गई है।

उत्तर प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त माध्यमिक स्कूलों में 22000 कर्मचारी की भर्ती होगी। तृतीय और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के खाली पदों के ब्योरे की मांग कर दी गई है। डीआईओएस मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक द्वारा मंडल स्तर पर कमेटी का गठन किया जाएगा।

जनवरी तक पूरा होगा काम

आगे की प्रक्रिया को पूरा करने के लिए रिक्त पदों के हिसाब से जिलों के लिए आउटसोर्सिंग कंपनी का चयन किया जाएगा। दिसंबर से जनवरी महीने तक इस कार्यशैली को पूरा किया जाना है। मामले में राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रवक्ता आरपी मिश्रा का कहना है कि 2011 में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की भर्ती पर रोक लग गई थी। तृतीय श्रेणी कर्मचारियों के पद भी रिक्त पड़े रहे। अब कर्मचारियों की भर्ती की जाएगी। जिससे स्कूलों को बड़ी राहत मिलेगी।

44% पद अभी भी रिक्त

जारी आंकड़ों के मुताबिक राज्य के 45 सौ अशासकीय सहायता प्राप्त स्कूल में 45000 पद स्वीकृत हैं। जिनमें से 44% पद अभी भी रिक्त हैं। इन स्कूलों में महीने भर में कर्मचारियों के नियुक्ति होगी। खाली पदों का ब्यौरा से लेकर इन पदों के कर्मचारियों की तैनाती तक की प्रक्रिया में अगर किसी भी तरह की लापरवाही बढ़ती जाती है तो ऐसे अधिकारियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जाएगी।

इतने कर्मचारियों की भर्ती

जारी नियम के तहत हाईस्कूल स्तर के स्कूलों में 5 कर्मचारियों को नियुक्त किया जाएगा जबकि इंटरमीडिएट के लिए 7 कर्मचारी की नियुक्ति की जाएगी। विज्ञान सहित अन्य विषयों के लिए 10 कर्मचारी रखे जाएंगे। कृषि वर्ग के लिए भी एकत्रित कर्मचारी रखे जाने की संभावना है।