कर्मचारियों-शिक्षकों के लिए बड़ी खबर, मिलेगा प्रमोशन का लाभ, इसी सप्ताह से शुरू होगी प्रक्रिया, बढ़ेगा वेतन

Employees

Teachers-Employees Promotion : कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर है। उन्हें प्रमोशन का लाभ मिलेगा। इसके लिए तैयारी शुरू की जा रही है। इसी सप्ताह कैंपस में एडवर्टाइजमेंट की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। 2017 से संस्थान में पदोन्नति प्रक्रिया ना होने की वजह से बड़ी संख्या में कर्मचारी पदोन्नति की राह देख रहे हैं। वही कर्मचारी लंबे समय से पदोन्नति प्रक्रिया की मांग कर रहे थे। प्रमोशन होने के साथ ही कर्मचारियों के वेतनमान में भी इजाफा देखने को मिलेगा।

प्रोसेस इसी सप्ताह से शुरू

पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज डीम्ड टू बी यूनिवर्सिटी में करियर एडवांसमेंट स्कीम के तहत प्रमोशन का लाभ दिया जाएगा। इसके लिए इसी सप्ताह से एडवर्टाइजमेंट की प्रक्रिया शुरू होगी। डायरेक्टर प्रोफेसर बलदेव सेतिया ने कहा कि इस बारे में प्रोसेस इसी सप्ताह से शुरू किया जाएगा। कई टीचर्स की प्रमोशन रुकी हुई है, उन्हें प्रमोशन का लाभ दिया जाना है।

प्रमोशन की मांग की गई थी

पिछले दिनों प्रमोशन को लेकर नए नियम का गठन करने का प्रयास किया गया था लेकिन इस बीच करीब 20 से 25 टीचर डायरेक्टर से जाकर मिले थे और उन्हें अपनी बात रखी थी। भर्ती के समय नियम के अनुसार ही प्रमोशन की मांग की गई थी। इस मामले में कुछ मेंबर्स ने किसी बदलाव की बजाए काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन को ही पूरी तरह फॉलो करने की सलाह भी दी थी। वहीं 2017 में कुछ प्रमोशन हुए थे। माना जाता है कि उस समय कोर्ट के आदेश में कुछ चुनिंदा लोगों को ही प्रमोशन का लाभ दिया गया था।

कई टीचर ऐसे हैं, जिनके प्रमोशन 10 साल से अधिक समय से रुके हुए हैं। दूसरे विश्वविद्यालयों कॉलेजों में आने वाले कुछ टीचर की भी पे प्रेजेंटेशन तो है लेकिन कुछ समय के बाद उन्हें तीसरे स्टेज वाले प्रमोशन का लाभ नहीं दिया गया है। साथ ही माना जा रहा है कि प्रक्रिया शुरू होने के बाद एक बार फिर से शिक्षकों के प्रमोशन का इंतजार समाप्त होगा।

PU में कैस प्रमोशन की प्रक्रिया जारी

इसके अलावा पंजाब विश्वविद्यालय में भी कैस प्रमोशन की प्रक्रिया जारी है। सोमवार को इस बारे में एक्सपर्ट पैनल के नाम पर चांसलर ऑफिस से अपलोड किए गए हैं। वहीं पंजाब विश्वविद्यालय प्रशासन एक्सप्रेस के पास उपलब्ध डाटा के अनुसार जल्द ही इंटरव्यू की तिथि घोषित की जाएगी। 160 टीचर ऐसे हैं, जिनके प्रमोशन किए जाने हैं।

इससे पहले कैस प्रमोशन को कोरोना की वजह से रोक दिया गया था। साथ ही डीन के इलेक्शन भी नहीं हुए थे। 100 से अधिक टीचर एसोसिएट प्रोफेसर बनते बनते रह गए थे। हालांकि प्रमोशन की प्रक्रिया होने के साथ ही एक बार फिर से 100 से अधिक टीचर एसोसिएट प्रोफेसर बनेंगे।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News